ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देश105 साल में पहली बार रेलवे को मिली महिला चेयरमैन; कौन हैं जया वर्मा सिन्हा

105 साल में पहली बार रेलवे को मिली महिला चेयरमैन; कौन हैं जया वर्मा सिन्हा

गुरुवार को जया वर्मा सिन्हा को भारतीय रेलवे के अध्यक्ष और सीईओ बनाया गया है। जया वर्मा सिन्हा 1 सितंबर, 2023 को कार्यभार ग्रहण करेंगी।

105 साल में पहली बार रेलवे को मिली महिला चेयरमैन; कौन हैं जया वर्मा सिन्हा
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 31 Aug 2023 06:46 PM
ऐप पर पढ़ें

105 सालों के इतिहास में पहली बार किसी महिला को रेलवे के अध्यक्ष और सीईओ पद पर नियुक्त किया गया है। गुरुवार को जया वर्मा सिन्हा को भारतीय रेलवे का अध्यक्ष और सीईओ बनाया गया है। जया वर्मा सिन्हा 1 सितंबर, 2023 को कार्यभार ग्रहण करेंगी। सिन्हा मौजूदा वक्त में रेलवे बोर्ड में सदस्य (संचालन और व्यवसाय विकास) के रूप में तैनात हैं और उन्होंने भारतीय रेलवे में कम से कम 35 सालों तक सेवा दी है।

जया वर्मा सिन्हा प्रतिष्ठित इलाहाबाद विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा रही हैं। वह मूल रूप से भारतीय रेलवे यातायात सेवा 1986 बैच की भारतीय रेलवे प्रबंधन सेवा (आईआरएमएस) से जुड़ी हैं। सिन्हा रेलवे बोर्ड के मौजूदा प्रमुख अनिल कुमार लाहोटी का स्थान लेंगी। यहां यह बताना जरूरी है कि विजयलक्ष्मी विश्वनाथन रेलवे बोर्ड की पहली महिला सदस्य थीं, लेकिन जया रेलवे बोर्ड की पहली महिला अध्यक्ष होंगी।

जया वर्मा सिन्हा ऐसे समय में बोर्ड का कार्यभार संभालेंगी जब भारतीय रेलवे को केंद्र सरकार से रिकॉर्ड बजटीय आवंटन प्राप्त हुआ है। भारतीय रेलवे को केंद्रीय बजट 2023-24 में 2.4 लाख करोड़ रुपये का पूंजीगत परिव्यय आवंटित किया गया है। यह राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर को अब तक का सबसे अधिक आवंटन है।

जया वर्मा सिन्‍हा ओडिशा के बालासोर में हुए कोरोमंडल एक्सप्रेस हादसे के समय काफी एक्टिव रहीं। उन्होंने पूरे घटनाक्रम पर अपनी खास नजर रखी। इसके अलावा उन्होंने पीएमओ में भी इस घटना को लेकर पावर प्रजेंटेशन दिया था। उनकी सक्रियता और कार्यशैली की काफी प्रशंसा हुई थी। अब सरकार ने जया वर्मा सिन्हा की नियुक्ति पर मुहर लगा दी है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें