ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशINDIA गठबंधन का पीएम चेहरा हैं राहुल गांधी? बघेल के दावे पर आया अखिलेश यादव का रिएक्शन

INDIA गठबंधन का पीएम चेहरा हैं राहुल गांधी? बघेल के दावे पर आया अखिलेश यादव का रिएक्शन

राहुल गांधी पहली बार रायबरेली से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। वह 2004 से 2019 तक अमेठी से लोकसभा सदस्य रहे। वर्तमान में वह केरल के वायनाड से सांसद हैं। अमेठी और रायबरेली में 20 मई को मतदान होना है।

INDIA गठबंधन का पीएम चेहरा हैं राहुल गांधी? बघेल के दावे पर आया अखिलेश यादव का रिएक्शन
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,रायबरेलीWed, 15 May 2024 05:18 PM
ऐप पर पढ़ें

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को संकेत दिया कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी विपक्षी INDIA गठबंधन के प्रधानमंत्री पद का चेहरा हैं। उत्तर प्रदेश के रायबरेली लोकसभा क्षेत्र में राहुल गांधी के लिए वोट मांगते हुए, बघेल ने कहा कि यहां के लोग देश के प्रधानमंत्री का चुनाव करने जा रहे हैं। उन्होंने पूर्व पीएम इंदिरा गांधी का हवाला देते हुए कहा कि राहुल गांधी भी अगले पीएम हैं। बघेल के दावे पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव का बयान भी सामने आया है। समाजवादी पार्टी (सपा) सुप्रीमो ने इसे विपक्षी गठबंधन की रणनीति करार दिया है।

दरअसल रायबरेली के बथुवा खास गांव में एक सार्वजनिक सभा को संबोधित करते हुए भूपेश बघेल ने कहा, "इंदिरा गांधी के बाद, अब, लोगों के पास इस निर्वाचन क्षेत्र से एक और पीएम चुनने का मौका है। लोग इसके गवाह बनेंगे और इसमें योगदान देंगे।” उन्होंने सभा का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "रायबरेली के लोग सिर्फ़ लोकसभा सदस्य नहीं चुन रहे हैं, बल्कि स्व. इंदिरा गांधी जी के बाद अब रायबरेली के लोग देश का प्रधानमंत्री चुनने जा रहे हैं।" राहुल गांधी पहली बार रायबरेली से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। वह 2004 से 2019 तक अमेठी से लोकसभा सदस्य रहे। वर्तमान में वह केरल के वायनाड से सांसद हैं। अमेठी और रायबरेली में 20 मई को मतदान होना है।

कांग्रेस नेता के बड़े दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा कि यह बयान इंडिया गठबंधन की 'रणनीति' का हिस्सा था। उन्होंने कहा, “मैं कुछ भी खुलासा नहीं करूंगा। यह हमारी रणनीति का हिस्सा है।” उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी इंडिया गठबंधन के तहत मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं। अब तक, लोकसभा चुनाव जीतने के बाद गठबंधन की सरकार बनने पर इंडिया ब्लॉक ने प्रधानमंत्री पद के लिए अपनी पसंद की घोषणा नहीं की है। राहुल गांधी ने पहले कहा था कि विपक्ष का गठबंधन आम चुनाव जीतने के बाद अपने प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार पर फैसला करेगा। 

इस बीच समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने कार्यकर्ताओं को हिदायत दी है कि उत्तर प्रदेश में जिन लोकसभा सीटों पर सहयोगी कांग्रेस चुनाव लड़ रही है वहां वो यह मानकर पूरी ताकत लगाएं कि अपनी पार्टी का उम्मीदवार ही चुनावी मैदान में हैं। उनकी यह हिदायत रायबरेली और अमेठी में जमीनी स्तर पर काम करती नजर आ रही है क्योंकि कांग्रेस के चुनावी कार्यक्रमों में लाल टोपी पहने सपा समर्थक बड़ी संख्या में मौजूद रहते हैं।

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा-कांग्रेस गठबंधन भले ही परवान चढ़ने में नाकाम रहा हो, लेकिन अमेठी और रायबरेली की हाई-प्रोफाइल सीटों पर दोनों दलों के कार्यकर्ता जीत सुनिश्चित करने के लिए जमीन पर एक टीम के रूप में काम कर रहे हैं ताकि दो निर्वाचन क्षेत्रों में ‘‘इंडिया’’ गठबंधन के उम्मीदवार की जीत सुनश्चित हो सके। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने अमेठी और रायबरेली में जोरदार प्रचार अभियान चलाया है और नुक्कड़ सभाओं और रैलियों को संबोधित किया है। इन कार्यक्रमों की विशेषता लाल टोपी पहने सपा कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रहती है।