DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पित्रोदा को 1984 पर अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के संदर्भ में सैम पित्रोदा की ओर से दिए कथित विवादित बयान को पार्टी लाइन से अलग टिप्पणी करार दिया और कहा कि इसके लिए पित्रोदा को माफी मांगनी चाहिए। गांधी ने एक समाचार वेबसाइट के साथ बातचीत में कहा, "मुझे लगता है कि सैम पित्रोदा जी ने जो कहा है वो पार्टी लाइन से पूरी तरह अलग है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए।''

उन्होंने कहा, ''मेरा मानना है कि 1984 एक ऐसी त्रासदी थी जिसने बहुत पीड़ा दी। न्याय होना चाहिए। जो लोग भी इसके लिए जिम्मेदार हैं उन्हें सजा मिलनी चाहिए।'' गांधी ने कहा, ''पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने माफी मांगी, मेरी मां सोनिया गांधी ने माफी मांगी। हम सबने अपना रुख स्पष्ट कर दिया कि वह एक भयावह त्रासदी थी जो नहीं होनी चाहिए थी।''

खबरों के मुताबिक पित्रोदा ने गुरुवार को कहा था,''अब क्या है 84 का? आपने (नरेंद्र मोदी) पांच साल में क्या किया, उसकी बात करिए। 84 में जो हुआ, वो हुआ।'' इस मामले पर विवाद खड़ा होने के बाद पित्रोदा ने कहा कि भाजपा अपनी नाकामियां छिपाने के लिए उनके शब्दों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है। 

अल्पसंख्यक आयोग ने पित्रोदा को नोटिस जारी किया, बिना शर्त माफी मांगने को कहा

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के संदर्भ में कथित तौर पर विवादित बयाद देने के मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी सैम पित्रोदा को शुक्रवार को नोटिस जारी कर कहा कि वह इस संदर्भ में स्पष्टीकरण दें और सिख समुदाय से तत्काल बिना शर्त माफी मांगें। भाजपा नेता तेजिंदर पाल बग्गा की शिकायत पर पित्रोदा को भेजे नोटिस में सिख विरोधी दंगे को 'मानवता के इतिहास पर कलंक करार देते हुए आयोग के सदस्य आतिफ रशीद ने कहा, ''अल्संख्यक आयोग अधिनियम की धारा 9 के तहत आयोग आपको निर्देश देता है कि गत नौ मई के अपने बयान पर स्पष्टीकरण दें।

नोटिस में रशीद ने कहा कि आपको यह भी निर्देशित किया जाता है कि आप सिख समुदाय से तत्काल बिना शर्त माफी मांगे। इस मामले पर विवाद खड़ा होने के बाद पित्रोदा ने कहा कि भाजपा अपनी नाकामियां छिपाने के लिए उनके शब्दों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है।

EXCLUSIVE INTERVIEW: प्रियंका ने कहा- अभी मोर्चा न लेती तो कायरता होती

सिख विरोधी बयान पर घिरे पित्रोदा, बोले- हुआ तो हुआ, हिंदी अच्छी नहीं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rahul Gandhi slams Sam Pitroda for his hua toh hua remark over 84 riots says he should apologize