DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राहुल गांधी ने शेयर किया श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोके जाने का वीडियो, देखें अधिकारियों के साथ हुई कहासुनी

rahul gandhi

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 (धारा 370) के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के बाद कश्मीर घाटी की स्थिति का जायजा लेने के लिए दिल्ली से गये राहुल गांधी समेत विपक्षी दलों के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर एयरपोर्ट से वापस दिल्ली लौटना पड़ा था। हालांकि, एयरपोर्ट पर रोके जाने को लेकर राहुल गांधी और अधिकारियों के बीच कहासुनी भी हुई, जिसका वीडियो खुद राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है। राहुल गांधी ने जो वीडियो शेयर किया है, उसमें वह श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोके जाने को लेकर अधिकारियों से पूछ रहे हैं कि आखिर वह जम्मू-कश्मीर के लोगों से क्यों नहीं मिल सकते, जबकि उन्हें राज्यपाल द्वारा आमंत्रित किया गया है।

रविवार को राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ''जम्मू-कश्मीर के लोगों की आजादी और नागरिक स्वतंत्रता पर अंकुश लगाए हुए 20 दिन हो चुके हैं। विपक्ष के नेताओं और प्रेस को प्रशासनिक क्रूरता और जम्मू-कश्मीर के लोगों पर किये जा रहे बल के बर्बर प्रयोग का अहसास हुआ, जब हमने शनिवार को श्रीनगर जाने की कोशिश की।''

यह भी पढ़ें- कश्मीर: विपक्षी नेताओं ने सरकार के दावे पर उठाए सवाल

रविवार को राहुल गांधी ने श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोके जाने का एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें राहुल गांधी कह रहे हैं कि उन्हें राज्यपाल ने आमंत्रित किया था। वह वीडियो में कहते दिख रहे हैं कि, 'अब मैं आया हूं तो बाहर जाने की इजाजत नहीं दी गई और मुझे रोका जा रहा है। मीडियाकर्मियों के साथ बदसलूकी की गई और मीडिया को गुमराह किया गया।'

वीडियो में राहुल आगे कहते हैं कि 'अगर जम्मू-कश्मीर में हालात समान्य हैं तो उन्हें क्यों रोका जा रहा है. वह अधिकारियों से यह भी कह रहे हैं कि हम यहां राज्यपाल के बुलावे पर आए हैं। हमारा मकसद सिर्फ अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद यहां के लोग से मिलकर हालात जानने भर का है। अगर आप चाहें तो हमें उन इलाकों में ही जाने की अनुमति दे दी जाए जहां हालात समान्य हैं। 

जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक दिन पहले बयान जारी कर नेताओं से कहा था कि घाटी का दौरा नहीं करें क्योंकि इससे क्षेत्र में धीरे धीर लौट रही शांति और सामान्य जिंदगी में बाधा आएगी। बता दें कि नौ राजनीतिक दलों के नेता शनिवार दोपहर श्रीनगर पहुंचे लेकिन कुछ घंटे के अंदर ही उन्हें लौटना पड़ा था।  उनके साथ माकपा, भाकपा, द्रमुक, राकांपा, जद (एस), राजद, एलजेडी और टीएमसी के नेता भी थे। 

यह भी पढ़ें- कश्मीर दौरे पर गए राहुल श्रीनगर एयपोर्ट से वापस लौटाए गए, कही यह बात

राहुल ने कहा, ''हम किसी भी ऐसे क्षेत्र में जाना चाहते हैं जहां शांति है और 10- 15 लोगों से बात करना चाहते हैं। अगर धारा 144 लागू है तो मैं अकेले जाना चाहता हूं, हमें समूह में नहीं जाना है।
         
प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, के सी वेणुगोपाल, माकपा नेता सीताराम येचुरी, द्रमुक नेता तिरूचि शिवा, एलजेडी नेता शरद यादव, तृणमूल कांग्रेस नेता दिनेश त्रिवेदी, भाकपा नेता डी राजा, राकांपा के माजिद मेनन, राजद के मनोज झा एवं जद(एस) के डी कुपेन्द्र रेड्डी शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rahul Gandhi shares Video on jammu and kashmir