ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशयुद्ध रुकवा दिया पेपर लीक नहीं रोक पा रहे; UGC-नेट परीक्षा रद्द किए जाने पर राहुल गांधी, मोदी सरकार पर खूब बरसे

युद्ध रुकवा दिया पेपर लीक नहीं रोक पा रहे; UGC-नेट परीक्षा रद्द किए जाने पर राहुल गांधी, मोदी सरकार पर खूब बरसे

यूजीसी-नेट की परीक्षा रद्द किए जाने पर राहुल गांधी ने मोदी सरकार को आड़े हाथ लिया है। उन्हेंने कहा कि मोदी जी ने रूस-यूक्रेन युद्ध को रुकवा दिया, मगर पेपर लीक नहीं रोक पा रहे।

युद्ध रुकवा दिया पेपर लीक नहीं रोक पा रहे; UGC-नेट परीक्षा रद्द किए जाने पर राहुल गांधी, मोदी सरकार पर खूब बरसे
rahul gandhi taunts narendra modi is not same as before changed completely after this election
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 20 Jun 2024 04:14 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने यूजीसी-नेट परीक्षा रद्द किए जाने को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा। उनका यह बयान परीक्षा रद्द हो जाने की घोषणा के एक दिन बाद आया है। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ऐसा दावा करती है कि उसने रूस-यूक्रेन युद्ध को रोक दिया, मगर पेपर लीक को क्यों नहीं रोक पाई।

युद्ध रुकवा दिया पेपल लीक नहीं रोक पा रहे: राहुल गांधी
राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान, मुझे हजारों लोगों ने पेपर लीक की अपनी परेशानी शिकायत सुनाई। ऐसा कहा जा रहा था कि मोदी जी ने रूस-यूक्रेन युद्ध को रोक दिया। लेकिन कुछ कारणों से, नरेंद्र मोदी भारत में पेपर लीक को रोक नहीं पाए हैं या रोकना नहीं चाहते हैं।" 

कांग्रेस सांसद ने कहा, "पेपर लीक के पीछे का कारण यह है कि शिक्षा प्रणाली पर भाजपा के मूल संगठन ने कब्जा कर लिया है। जब तक इन्हें बदला नहीं किया जाता है, तब तक पेपर लीक होते रहेंगे। मोदी जी ने इसे अपने लिए सुविधाजनक बनाया है। यह एक राष्ट्र-विरोधी गतिविधि है।"

भाजपा ने हमारी शिक्षा प्रणाली में घुसपैठ की है: राहुल गांधी
राहुल गांधी ने कहा, "ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हमारे सभी संस्थानों पर कब्जा कर लिया गया है। हमारे कुलपतियों को योग्यता के आधार पर नहीं रखा गया है। बल्कि इसलिए रखा गया है क्योंकि वे एक खास संगठन से जुड़े हैं। और इस संगठन और भाजपा ने हमारी शिक्षा प्रणाली में घुसपैठ की है और इसे नष्ट कर दिया है।" 

राहुल गांधी ने आगे कहा, "नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी करके अर्थव्यवस्था के साथ जो किया, वही अब शिक्षा प्रणाली के साथ किया है। ऐसा होने और आपके परेशान होने का कारण यह है कि एक स्वतंत्र, उद्देश्यपूर्ण शिक्षा प्रणाली को नष्ट कर दिया गया है... यह सबसे जरूरी है कि जो लोग यहां दोषी हैं, उन्हें सजा दी जाए।"