ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशइंडिया के फेस के लिए रेस, टीएमसी ने कहा ममता; जेडीयू ने नीतीश का नाम बढ़ाया आगे

इंडिया के फेस के लिए रेस, टीएमसी ने कहा ममता; जेडीयू ने नीतीश का नाम बढ़ाया आगे

हालिया विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन ने इंडिया गठबंधन में कांग्रेस की स्थिति काफी कमजोर कर दी है। आलम यह है कि कर्नाटक और हिमाचल में जीत के कांग्रेस ने जो हासिल किया था सब गंवा दिया।

इंडिया के फेस के लिए रेस, टीएमसी ने कहा ममता; जेडीयू ने नीतीश का नाम बढ़ाया आगे
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 05 Dec 2023 11:12 PM
ऐप पर पढ़ें

हालिया विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन ने इंडिया गठबंधन में कांग्रेस की स्थिति काफी कमजोर कर दी है। आलम यह है कि कर्नाटक और हिमाचल में जीत और राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से कांग्रेस ने जो हासिल किया था वह सब गंवा दिया। इसका नतीजा यह हुआ है कि इंडिया के सहयोगी दल गठबंधन के लिए नए चेहरे की मांग उठाने लगे हैं। जहां जेडीयू बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को 2024 में पीएम पद का दावेदार बताने में जुट गया है। वहीं, टीएमसी इसके लिए ममता का नाम आगे करने में लगी है। ऐसे में आने वाले समय में इंडिया गठबंधन के सामने बिल्कुल नए किस्म की चुनौतियां आनी तय हैं।

बैठक हो चुकी है स्थगित
गौरतलब है कि जेडीयू पहले ही घोषणा कर चुका है नीतीश इंडिया गठबंधन की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री के खराब स्वास्थ्य का हवाला दिया गया है। हालांकि आरजेडी ने लालू और तेजस्वी के इसमें शामिल होने की बात कही थी। बाद में यह बैठक स्थगित हो गई। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक जेडीयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहाकि वैसे तो यह इंडिया गठबंधन के घटक तय करेंगे कि चुनाव में पीएम फेस के साथ जाना चाहिए या नहीं। लेकिन हम एक बार फिर कहना चाहेंगे कि नीतीश कुमार में वे सभी गुण हैं जो एक पीएम में होने चाहिए। नीतीश कुमार का विकास और समाजवादी राजनीति का ब्रांड 2024 के लोकसभा चुनावों में हावी रहेगा।

नीतीश में साहस
त्यागी ने आगे कहाकि नीतीश इंडिया गठबंधन के एकमात्र नेता थे जिन्होंने जाति सर्वेक्षण कराने और इसके आधार पर आरक्षण की सीमा को 50% से बढ़ाकर 65% करने का साहस दिखाया था। उन्होंने कहाकि कुछ राज्यों ने पहले भी इसी तरह के सर्वेक्षण किए थे, लेकिन किसी ने भी राजनीतिक कारणों से रिपोर्ट जारी करने की हिम्मत नहीं की... इंडिया को अपनी राजनीति पर फिर से विचार करना चाहिए, जिसमें नीतीश कुमार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। बता दें कि कुछ दिन पहले पटना में एक बैठक के दौरान नीतीश कुमार का स्वागत देश का पीएम कैसा हो, नीतीश कुमार जैसा हो नारे से हुआ था।

दिसंबर के तीसरे हफ्ते में होगी इंडिया की मीटिंग
विपक्षी गठबंधन इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस (इंडिया) के कुछ घटक दलों के प्रमुख नेताओं की अनुपलब्धता के चलते अब इनकी बैठक इस महीने के तीसरे सप्ताह में होगी। हालांकि, गठबंधन के घटक दलों के संसदीय दल के नेता बुधवार शाम कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के आवास पर होने वाली समन्वय बैठक में शामिल होंगे। खरगे के कार्यालय से संबद्ध और कांग्रेस कार्य समिति के स्थायी आमंत्रित सदस्य गुरदीप सप्पल ने कहा कि अब छह दिसंबर की शाम छह खरगे के आवास पर 'इंडिया' गठबंधन के (घटक दलों) के संसदीय दल के नेताओं की समन्वय बैठक होगी।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें