ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशनशे की गिरफ्त में था; पोर्श कांड के नाबालिग का बड़ा कबूलनामा; पुलिस को क्या-क्या बताया

नशे की गिरफ्त में था; पोर्श कांड के नाबालिग का बड़ा कबूलनामा; पुलिस को क्या-क्या बताया

अपनी लक्जरी गाड़ी से दो आईटी पेशेवरों को कुचलने के आरोपी किशोर ने कुबूल कर लिया है कि वह गाड़ी चलाते समय नशे में था। वहीं उसकी मां का कहना है कि उसे अपना ब्लड देने के लिए डॉक्टर ने कहा था।

नशे की गिरफ्त में था; पोर्श कांड के नाबालिग का बड़ा कबूलनामा; पुलिस को क्या-क्या बताया
Anmolलाइव हिन्दुस्तान,पुणेSun, 02 Jun 2024 06:38 PM
ऐप पर पढ़ें

19 मई को अपनी लक्जरी गाड़ी से दो आईटी पेशेवरों को कुचलने के आरोपी किशोर ने कुबूल कर लिया है कि वह गाड़ी चलाते समय काफी ज्यादा नशे में था। इंडिया टुडे के सूत्रों की मानें तो उसने पुलिस के सामने अपना बयान दिया है जिसमें उसने कथित तौर पर इस बात को स्वीकार किया है कि उस दिन वह गाड़ी चलाते समय नशे की गिरफ्त में था। 

हालांकि उसने ज्यादा जानकारी पुलिस के साथ साझा नहीं की है। उसका कहना है कि उसे उस दिन हुई घटना के समय का कुछ भी ठीक से याद नहीं है। सुबह साढ़े ग्यारह बजे से दोपहर साढ़े बारह बजे तक चली पूछताछ में किशोर ने पुणे पुलिस को बताया कि भारी नशे में होने के चलते वह कुछ भी ठीक से याद नहीं कर पा रहा है। 

हिंदुस्तान टाइम्स से हुई बातचीत के दौरान एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि हमनें उससे घटना वाले दिन की उसकी लोकेशन, खून के सैंपल्स के साथ की गई छेड़खानी और बाकी मेडिकल टेस्ट में हुए घपले के बारे में सवाल किए लेकिन वो केवल यही बोलता रहा कि उसे कुछ याद नहीं है क्योंकि वह नशे में था।

आरोपी की मां ने कहा, डॉक्टर ने मुझसे मांगा था ब्लड सैंपल

आरोपी के माता पिता दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ करना शुरू कर दिया है। किशोर की मां पर आरोप था कि उन्होंने अपने बेटे की जगह अपना ब्लड सैंपल देकर सबूतों के साथ हेर फेर करने की कोशिश की है। हालांकि टाइम्स ऑफ इंडिया के हवाले से पुणे के पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार का कहना है कि आरोपित की मां ने बताया है कि उसे अपना ब्लड सैंपल देने के लिए अस्पताल के डॉक्टर ने कहा था। आगे पूछताछ करने पर उसने कहा कि "मैं नहीं जानती की डॉक्टर ने ऐसा क्यों कहा।" फिलहाल पुलिस ने उसका बयान दर्ज कर लिया है।

 मां बाप और दादा ने मिलकर छिपाए सबूत

पुलिस का कहना है कि आरोपित के मां बाप दोनों ने मिलकर सभी जरूरी सुबूत मिटाने की भरपूर कोशिश की है। दोनों को ही पुलिस हिरासत में भेजा जा चुका है। इनके अलावा किशोर के दादा को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके ऊपर अपने ड्राइवर पर दोष लेने का दबाव डालने का आरोप है।