PULWAMA TERROR ATTACK Farooq claimed that Imran sent messengers to prevent war from India - PULWAMA TERROR ATTACK: फारूख ने किया दावा, भारत से जंग टालने के लिए इमरान ने भेजा दूत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

PULWAMA TERROR ATTACK: फारूख ने किया दावा, भारत से जंग टालने के लिए इमरान ने भेजा दूत

(HT file photo)

पुलवामा आतंकी हमले के बाद जारी तनाव के बीच नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूख अब्दुल्ला ने सोमवार को दावा किया कि पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत में दूत भेजकर जंग के माहौल को कम किया है। उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि इमरान के सलाहकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात की थी। 

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने पाकिस्तानी सांसद राजेश कुमार वांकवानी की मोदी और सुषमा के साथ बैठक को लेकर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा, हमें उम्मीद है कि यह जो जंग का माहौल बन रहा था उसमें कुछ कमी हुई है। बता दें कि रविवार को पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने दावा किया था कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद उपजे हालात के मद्देनजर इमरान सरकार ने भारत से परोक्ष रूप से संपर्क करना शुरू कर दिया है। 

वार्ता से ही तनाव में कमी आएगी

फारूख ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को खत्म करने का एकमात्र रास्ता बातचीत ही है। इस्लामाबाद को अपनी भूमि पर आतंकवाद खत्म करने के लिए मजबूत प्रयास करने चाहिए।

युद्ध से कुछ हासिल नहीं

अब्दुल्ला ने नेकां मुख्यालय में पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा, युद्ध उन्माद पैदा किए जाने के प्रयास हैं। हमें युद्ध से बचाने के लिए आपको ईश्वर से प्रार्थना करनी चाहिए। चार युद्ध हुए हैं, लेकिन जानमाल के नुकसान के अलावा कुछ भी हासिल नहीं हुआ। 

पाक गंभीरता से ले

नेकां नेता ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद खत्म करने का प्रयास गंभीरता से करना चाहिए। ऐसा नहीं हुआ तो पाक पर आतंकी देश का तमगा लग जाएगा जिससे उसके लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

WAR MEMORIAL: पूर्व सैनिकों से बोले PM- मोदी याद रहे या नहीं, वीरता याद रहनी चाहिए

आर्टिकल 35ए पर पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती की चेतावनी- 'आग से मत खेलो'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PULWAMA TERROR ATTACK Farooq claimed that Imran sent messengers to prevent war from India