PULWAMA TERROR ATTACK defense experts said needs to teach lesson to Pakistan - PULWAMA TERROR ATTACK: रक्षा विशेषज्ञों की दो टूक, बोले- पाकिस्तान को सबक सिखाना जरूरी DA Image
15 नबम्बर, 2019|11:41|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

PULWAMA TERROR ATTACK: रक्षा विशेषज्ञों की दो टूक, बोले- पाकिस्तान को सबक सिखाना जरूरी

(एचटी फोटो)

पुलवामा हमले को लेकर सरकार पर कार्रवाई करने के बढ़ते दबाव के बीच रक्षा विशेषज्ञों ने कहा है कि पाकिस्तान को कूटनीतिक रूप से अलग-थलग करने और सैन्य कदम उठाकर सबक सिखाने की जरूरत है। 

आतंकवाद पाक की सरकारी नीति

पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल बिक्रम सिंह ने कहा, देश के समग्र राजनीतिक नेतृत्व ने राजनीतिक इच्छाशक्ति दिखाई है। इसके आधार पर यह कहा जा सकता है कि आतंकवाद को सरकारी नीति के रूप में इस्तेमाल करने वाले पाकिस्तान को निश्चित तौर पर सबक सिखाने की जरूरत है।
जनरल सिंह ने कहा, सरकार जानती है कि कब और कैसे इसका जवाब देना है। ऐसा हो सकता है कि  कार्रवाई तुरंत न हो, क्योंकि पाकिस्तान अभी चौकन्ना होगा। ऐसे में कार्रवाई करने के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है।

सर्जिकल स्ट्राइक समेत कई विकल्प

उरी आतंकी हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक के समय उत्तरी कमान के कमांडर रहे लेफ्टिनेंट जनरल दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा, उरी हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी। सैन्य बलों के सीमा पार जाकर कार्रवाई करने से लेकर वायुसेना के उपयोग तक, हमारे पास कई विकल्प हैं। सरेआम इनका जिक्र नहीं किया जा सकता। साथ ही सीमा पर और कूटनीतिक स्तर पर पाकिस्तान पर दबाव भी बनाना होगा।
 
पाक को सख्त संदेश देने की जरूरत

पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त रह चुके जी पार्थसारथी ने कहा, पाकिस्तान को बेहद सख्त संदेश देना जरूरी है। इस के लिए तमाम विकल्प है। कूटनीतिक स्तर पर अलग करना सतत प्रक्रिया है। सैन्य स्तर पर कार्रवाई करने को लेकर विकल्प हैं। समय और कार्रवाई राजनीतिक नेतृत्व को तय करना है। रक्षा मामलों के विशेषज्ञ ने कहा, घाटी में युवाओं में कट्टरपंथ के बढ़ते प्रभाव पर भी ध्यान देना होगा। जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा घाटी में घुसपैठ के बाद युवाओं को साथ जोड़ते हैं और कट्टरपंथी विचारधारा के दायरे में लाते हैं। इस विषय पर भी सूक्ष्म रणनीति के तहत ध्यान देने की जरूरत है।

व्यवस्थित रणनीति के तहत हो कार्रवाई

रक्षा विशेषज्ञ ब्रिगेडियर (सेवानिवृत) आर. महालिंगम ने कहा, यह बिल्कुल स्पष्ट है कि पुलवामा आतंकी हमले की साजिश पाकिस्तान में रची गई। इसे अंजाम देने वालों को दंडित करना जरूरी है। राजनीतिक इच्छाशक्ति दिखाते हुए व्यवस्थित रणनीति के तहत कार्रवाई करने की जरूरत है।

PULWAMA TERROR ATTACK: आतंकियों को तीन बार बदलना पड़ा था अपना प्लान

PULWAMA TERROR ATTACK:यहां देखें हमले में शहीद हुए जवानों के नाम व पते

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PULWAMA TERROR ATTACK defense experts said needs to teach lesson to Pakistan