DA Image
21 जनवरी, 2020|11:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नागरिकता बिल Live: असम में प्रदर्शन के बाद विमान सेवाएं रद्द, सीएम ने की शांति की अपील

chief minister of assam sarbananda sonowal  ani twitter pic

1 / 3Chief Minister of Assam Sarbananda Sonowal (ANI Twitter Pic)

protesters gather in a street during a strike against the citizenship amendment bill  cab   on the o

2 / 3Protesters gather in a street during a strike against the Citizenship Amendment Bill (CAB), on the outskirts of Sivasagar town in Assam, on Wednesday.(PTI Photo)

demonstrators protest against the citizenship amendment bill  cab  during a strike called by the nor

3 / 3Demonstrators protest against the Citizenship Amendment Bill (CAB) during a strike called by the North East Students’ Organisation (NESO), in Agartala(PTI FILE)

PreviousNext

नागरिकता (संशोधन) बिल 2019 बुधवार को राज्यसभा में पास होने के बाद असमें की जगहों जगहों पर जबरदस्त हिंसा भड़क उठी। कई जगहों पर बुधवार की रात को तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाएं सामने आई। जिसके बाद सेना ने फ्लैग मार्च किया और सुरक्षाबलों को फायरिंग करनी पड़ी। इसके अलावा, कुछ हिसों में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाया गया और वहां के दस जिलों में इंटरनेट पर रोक लगा दी गई।ट

सीएम सर्वानंद सोनोवाल की शांति की अपील

उधर, असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने नागरिकता बिल पर हो रहे प्रदर्शन के बीच कहा कि मैं लोगों से यह अपील करता हूं कि वे शांति बरते और दिगभ्रमित न हों।

हिंसा के चलते कई फ्लाइट्स हुई रद्द

भारी हिंसा को देखते हुए, सरकार ने असम सेक्टर जानेवाली और वहां से आनेवाली कुछ फ्लाइट्स को रद्द कर दिया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के नॉर्थ ईस्ट के रिजनल एग्जक्यूटिव डायरेक्टर संजीव जिंदल का कहना है- डिब्रूगढ़ की 9 फ्लाइट्स रद्द की गई हैं क्योंकि कोई टैक्सी वहां पर नहीं है और कुछ पैसेंजर्स जो कल वहां पहुंचे थे वे वहीं पर फंसे हुए हैं।

सीएम के घर बुधवार की रात हुआ पथराव

असम के डिब्रूगढ़ में प्रदर्शनकारियों ने बुधवार की देर रात मुख्यमंत्री सर्वानांद सोनोवाल के घर पर पथराव किया। डिब्रूगढ़ के पुलिस उपायुक्त पल्लव गोपाल झा ने बताया कि बुधवार रात कुछ लोग लखीनगर क्षेत्र स्थित मुख्यमंत्री के आवास की ओर पहुंचे और उन्होंने पत्थर फेंके। असम के दुलियाजन में नागरिकता विधेयक का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने केंद्रीय मंत्री रामेश्वर तेली के घर पर हमला किया, जिसमें संपत्तियों को काफी नुकसान पहुंचा।

ये भी पढ़ें: नागरिक बिल के विरोध में पूर्वोत्तर सुलगा, सेना अलर्ट पर; 10 खास बातें

असम में गुरुवार को हजारों छात्रों और आम लोगों ने दिसपुर चलो मार्च निकाला और तीन घंटे से ज्यादा समय तक राज्य सचिवालय की घेराबंदी की। प्रदर्शनकारियों ने कई बार टायर और होर्डिंग्स जलाईं। इस दौरान सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए रबर की गोलियां चलाईं, पानी की बौछारें छोड़ी और आंसू गैस छोड़े।

Live Updates here:

-कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा नागरिकता संशोधन बिल पास करने के चलते अशांति कश्मीर से लेकर कन्याकुमार तक देशभर में है। लेकिन, सबसे ज्यादा स्थिति खराब उत्तर-पूर्वी राज्यों में है। उत्तरपूर्वा राज्यों के लेकर धर्मों से ऊपर उठकर इस बिल के खिलाफ हैं।

-असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने नागरिकता बिल पर हो रहे प्रदर्शन के बीच कहा कि मैं लोगों से यह अपील करता हूं कि वे शांति बरते और दिगभ्रमित न हों।

-नागरिकता बिल पर विरोध प्रदर्शन को देखते हुए असमें में सेना की पांच टुकड़ियों को तैनात किया गया है। तीन असम राइफल्स की टुकड़ियों की मांग कर उसे त्रिपुरा में लगाया गया है।

-पूर्वोत्तर राज्यों में प्रदर्शन को देखते हुए असम और त्रिपुरा में रणजी ट्रॉफी मैच को निलंबित कर दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Protest on citizenship amendment bill on different parts of Country live updates here