DA Image
1 जून, 2020|10:36|IST

अगली स्टोरी

कोरोना वायरस लॉकडाउन: टेलीकॉम कंपनियां एक महीने के लिए मुफ्त इनकमिंग-आउटगोइंग सुविधा दें, प्रियंका गांधी की मांग

priyanka gandhi

कोरोना वायरस संकट की वजह लॉकडाउन के चलते बड़ी संख्या में मजदूर शहरों से गांवों की तरफ पलायन कर रहे हैं। यातायात के साधन बंद होने की वजह से मजदूर अपने परिवार के साथ पैदल घरों की तरफ लौट रहे हैं। पलायन कर रहे इन लोगों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने पत्र लिखकर टेलीकॉम कंपनियों को मानवीय आधार पर मदद का आग्रह किया है। 

प्रियंका गांधी वाड्रा ने एयरटेल, बीएसएनएल, वोडाफोन और जियो टेलीकॉम कंपनियों को पत्र लिखकर कहा है कि भूख, प्यास और बीमारियों से जुझते हुए लोग अपने परिवार के पास पहुंचने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं, ऐसी स्थिति में टेलीकॉम कंपनियां सकारात्मक प्रभाव डाल सकती है। उन्होंने कहा कि बहुत सारे ऐसे लोग जो अपने घर जा रहे हैं, उनका रिचार्ज खत्म हो गया है। ऐसी स्थिति में वह ना अपने परिवार से बात कर पा रहे हैं और परिवार की कॉल रिसीव कर पा रहे हैं।

टेलीकॉम कंपनियों से अनुरोध करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि ऐसी स्थिति में अपनी मोबाइल सेवा में इनकमिंग और आउटगोइंग को एक माह के लिए निशुल्क बढा दे। ताकि, मर्द, औरत और बच्चे अपनी जिंदगी के सबसे मुश्किल सफर में परिजनों के संपर्क में रह सके। उन्होंने उम्मीद जताई है कि टेलीकॉम कंपनियां उनके आग्रह पर सकारात्मक रुख अपनाते हुए मोबाइल सेवा जारी रखेंगे।

केंद्र ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासनों से लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से राज्य और जिलों की सीमा सील करने को कहा है। मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने उनसे सुनिश्चित करने को कहा कि शहरों में या राजमार्गों पर आवाजाही नहीं हो क्योंकि लॉकडाउन जारी है।

एक सरकारी अधिकारी ने बताया, ''देश के कुछ हिस्सों में प्रवासी कामगारों की आवाजाही हो रही है। निर्देश जारी किए गए हैं कि राज्यों और जिलों की सीमा को प्रभावी तरीके से सील करना चाहिए।" राज्यों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि शहरों में या राजमार्गों पर लोगों की आवाजाही नहीं हो। केवल सामान को लाने-ले जाने की अनुमति होनी चाहिए। राज्यों को उनलोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है, जो छात्रों अथवा मजदूरों से जगह खाली करने को कहता है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए मंगलवार को देशभर में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया। जिसके बाद से पूरे देश में बस, ट्रेन, फ्लाइट सभी प्रकार की सेवाएं ठप हो गई हैं। भारत में कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी अपडेटेड आंकड़े के मुताबिक, देश में अब तक कोविड-19 के 979 मामले सामने आए हैं, जिनमें 25 लोगों की मौत भी शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 106 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 6 मौतों की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि हम ऐसे स्थानों की पहचान कर रहे हैं, जहां मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Priyanka Gandhi written to telecom Jio Vodafone-Idea Airtel companies give free incoming-outgoing facility for one month for migrants amid Corona Lockdown