DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रियंका आज पहली बार आएंगी काशी, सात घंटे पीएम के क्षेत्र में रहेंगी

priyanka in sirsa photo-hindustan

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी बुधवार को पहली बार काशी आ रही हैं। वह करीब सात घंटे काशी में रहेंगी। इस दौरान वह कार्यकर्ताओं, आम जनता से मिलेंगी। बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन करेंगी। पुलवामा के आतंकी हमलों में शहीद सैनिकों के परिजनों से मिलने जाएंगी। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस महासचिव का यह दौरा होली के ठीक एक दिन पहले हो रहा है, इसलिए उसका राजनीतिक निहितार्थ भी कई रूपों और रंगों में देखा-समझा जा रहा है। पार्टी नेताओं ने प्रियंका गांधी के जगह-जगह स्वागत की तैयारियां कर रखी हैं। प्रियंका गांधी मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस से बुधवार सुबह रवाना होंगी। वहां से रामनगर पहुंचेंगी। फिर गंगा में स्टीमर से यात्रा करते हुए अस्सी घाट पहुंचेंगी और वहां नाविकों के सम्मेलन में भाग लेंगी। नाविकों से मिलने के बाद वह स्टीमर से ही दशाश्वमेध घाट जाएंगी। दशाश्वमेध घाट की सीढ़ियों से होते हुए उनका विश्वनाथ मंदिर पहुंचने का कार्यक्रम है। कांग्रेस महासचिव दोपहर करीब 2.30 बजे कबीरचौरा स्थित सरोजा पैलेस आएंगी। यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्मेलन को संबोधित करने के बाद पुलवामा में शहीदों के परिजनों से मिलने उनके आवासों पर जाएंगी। शाम को वह दिल्ली प्रस्थान कर जाएंगी। 

शास्त्री जी के आवास जाएंगी
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रियंका गांधी को शूलटंकेश्वर मंदिर जाना था। वहां से रामनगर पहुंचना था। अब वह चुनार से सीधे रामनगर पहुंचेंगी। रामनगर में पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री के आवास पर जाएंगी। शूलटंकेश्वर का कार्यक्रम रद्द हो गया है। 

सरोजा पैलेस में लगीं 1600 कुर्सियां
कबीरचौरा स्थित सरोजा पैलेस में कांग्रेस के कार्यकर्ता सम्मेलन की तैयारियों को मंगलवार को अंतिम रूप दिया गया। यहां कार्यकर्ताओं के लिए करीब 1600 कुर्सियां लगाई गई हैं। पंडाल में पार्टी का झंडा लगा दिया गया है। प्रियंका गांधी के साथ यहां मंच पर रहने वाले नेताओं के नाम तय नहीं हुए हैं, पर छह से आठ कुर्सी रखे जाने की बात है। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से उनकी अलग से मुलाकात कराने की तैयारी है। इससे पहले अस्सी में नाविकों के साथ संवाद की तैयारी भी पूरी कर ली गई है। युवक कांग्रेस के महासचिव राघवेंद्र चौबे को यहां के कार्यक्रम की जिम्मेदारी दी गई है। 

जगह-जगह स्वागत की तैयारी 
रामनगर, अस्सी घाट से दशाश्वमेध  और वहां से सरोजा पैलेस तक कई प्वाइंट बनाए गए हैं जहां पार्टी कार्यकर्ता स्वागत के लिए उपस्थित रहेंगे। सभी की जिम्मेदारियां बांट दी गई हैं। पूर्व सांसद डॉ. राजेश मिश्र, पूर्व विधायक अजय राय, महासचिव सतीश चौबे, जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा, प्रो. सतीश राय समेत कई वरिष्ठ पदाधिकारियों ने मंगलवार को कार्यक्रम स्थलों का एसपीजी के साथ जायजा लिया। कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। 

प्रमोद तिवारी पहुंचे बनारस
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी मंगलवार को वाराणसी पहुंच गए। वह प्रयागराज से मिर्जापुर तक प्रियंका गांधी के साथ थे। उनका कहना था कि जनता में जबरदस्त उत्साह दिखा। जिस तरह 1980 में इंदिरा जी की वापसी से पहले का माहौल दिख रहा था, वैसा ही माहौल इस समय नजर आ रहा है। 

दौरे पर टिकी है सबकी नजर
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के दौरे को लेकर सबकी नजरें टिकी हुई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के कारण यह दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। कार्यकर्ता सम्मेलन और अस्सी घाट पर होने वाले संवाद से निकलने वाले संदेश अहम हो सकते हैं। लोगों को उत्सुकता है कि प्रियंका गांधी किन मुद्दों को उठाएंगी, किन प्रश्नों पर सरकार को घेरेंगी? कार्यकताओं में कैसे जोश भरेंगी?

कांग्रेस ने जारी की उम्मीदवारों की छठी लिस्ट, अब तक 146 नामों की घोषणा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Priyanka gandhi will come for Kashi in first time today