DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › नागरिकता कानून: जामिया हिंसा के विरोध में प्रियंका गांधी इंडिया गेट पर धरने पर बैठीं
देश

नागरिकता कानून: जामिया हिंसा के विरोध में प्रियंका गांधी इंडिया गेट पर धरने पर बैठीं

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Ashutosh
Mon, 16 Dec 2019 06:52 PM
नागरिकता कानून पर मचे घमासान के बीच धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी (फोटो: हिन्दुस्तान)
1 / 2नागरिकता कानून पर मचे घमासान के बीच धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी (फोटो: हिन्दुस्तान)
priyanka Gandhi dharna at india gate
2 / 2priyanka Gandhi dharna at india gate

नागरिकता कानून के खिलाफ रविवार को दिल्ली में जामिया हिंसा के विरोध में कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी इंडिया गेट पर धरने पर बैठ गई हैं। प्रियंका गांधी के साथ-साथ कांग्रेस के कई नेता भी धरने पर बैठे हुए हैं। धरने पर बैठने से पहले जामिया मिलिया इस्लामिया घटना पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि सरकार ने संविधान और छात्रों पर हमला किया है, उन्होंने विश्वविद्यालय में प्रवेश करने के बाद छात्रों पर हमला किया है। हम संविधान के लिए लड़ेंगे, हम इस सरकार के खिलाफ लड़ेंगे।

इससे पहले प्रियंका गांधी ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए रविवार को कहा- इस सरकार को जनता की आवाज से डर है, इसलिए वे छात्रों पर पत्रकारों को दबा कर अपनी मौजूदगी दर्ज कर रही है। रविवार की रात किए गए एक ट्वीट में प्रियंका गाधी ने कहा कि पीएम को युवाओं की आवाज सुननी होगी।

उन्होंने आगे कहा- “देश की यूनिवर्सिटीज में घुसकर उसके अंदर छात्रों को पीटा जा रहा है। ऐसे समय में जब सरकार को जनता की आवाज सुननी चाहिए, उस वक्त बीजेपी सरकार नॉर्थ ईस्ट, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में छात्रों और पत्रकारों पर जुल्म ढा रही है। यह सरकार डरपोक है।”

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों की जामिया मिल्लिया इस्लामिया के समीप न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में पुलिस के साथ झड़प हो गई, जिसमें प्रदर्शनकारियों ने डीटीसी की चार बसों और दो पुलिस वाहनों में आग लगा दी। झड़प में छात्रों, पुलिसकर्मियों और दमकलकर्मी समेत करीब 60 लोग घायल हो गए। पुलिस कार्रवाई के खिलाफ विश्वविद्यालय के छात्रों ने सोमवार को कड़कड़ाती ठंड में जामिया के प्रवेश द्वार के बाहर कमीज उतारकर प्रदर्शन भी किया।

संबंधित खबरें