ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशइजरायल-हमास पर हम कुछ गलत नहीं कर रहे, प्रियंका गांधी की नसीहत पर सरकार की दो टूक

इजरायल-हमास पर हम कुछ गलत नहीं कर रहे, प्रियंका गांधी की नसीहत पर सरकार की दो टूक

Congress News: प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक पोस्ट में कहा कि भारत हमेशा सही के साथ खड़ा हुआ है और आजादी के लिए फिलिस्तीनी लोगों के लंबे संघर्ष की शुरुआत से ही उनका समर्थन करता रहा है।

इजरायल-हमास पर हम कुछ गलत नहीं कर रहे, प्रियंका गांधी की नसीहत पर सरकार की दो टूक
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 08 Dec 2023 10:04 AM
ऐप पर पढ़ें

इजरायल-हमास युद्ध पर एक बार फिर भारत ने अपना रुख साफ कर दिया है। विदेश मंत्रालय का कहना है कि इस मामले में इस मामले में भारत कुछ गलत नहीं कर रहा है। गुरुवार को ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गाजा की ताजा स्थिति का मुद्दा उठाया था। उनका कहना था कि भारत को 'जो सही है उसके लिए खड़ा होना चाहिए।' साथ ही उन्होंने कहा था कि गाजा में युद्धविराम से पहले से ज्यादा बमबारी हो रही है।

क्या बोली भारत सरकार
गुरुवार को प्रेस ब्रीफिंग के दौरान विदेश मंत्रालय के सामने प्रियंका गांधी की प्रतिक्रिया को लेकर सवाल पूछा गया था। इसपर मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा, 'देखिए मैं ये बिल्कुल मानने के लिए तैयार नहीं हूं कि हम जो कर रहे हैं, वो गलत है। तो हमारा जो दृष्टिकोण है, हमने जिस तररह से इस मुद्दे पर नजरिया रखा हुआ है।'

उन्होंने आगे कहा, 'उसमें आप जानते हैं कि हमारा पक्ष बहुत क्लियर है कि हमने कहा था कि आतंकवाद को हम किस तरह से देखते हैं, किस तरह से वहां आम नागरिक, मानवीय सहयोग चाहिए होता है, किस तरह से फिलिस्तीन का दीर्घकालिक समाधान आ सके। इस मुद्दे बार हमने अपना जो पोजिशन है, उसको बताया है, स्पष्ट किया है और बहुत से स्तरों पर किया है...। मैं सिर्फ यहीं कहूंगा कि हमें लगता है कि यही ठीक पोजिशन है और खासतौर से आतंकवाद के मामले में हमारा पोजिशन काफी मजबूत रहा है।'

प्रियंका गांधी ने क्या कहा था?
कांग्रेस महासचिव ने सोशल मीडिया मंच 'एक्स' पर किए एक पोस्ट में कहा कि भारत हमेशा सही के साथ खड़ा हुआ है और आजादी के लिए फिलिस्तीनी लोगों के लंबे संघर्ष की शुरुआत से ही उनका समर्थन करता रहा है।

उन्होंने कहा, 'गाजा पर निर्मम बमबारी युद्धविराम से पहले से भी अधिक बर्बरता के साथ जारी है। खाद्य आपूर्ति की किल्लत है, चिकित्सा सुविधाओं को नष्ट कर दिया गया है और मूलभूत सुविधाओं को भी बंद कर दिया गया है।' प्रियंका ने कहा कि एक पूरा देश खत्म किया जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि तकरीबन 10,000 बच्चों, 60 से अधिक पत्रकारों और सैकड़ों चिकित्सा कर्मियों समेत 16,000 निर्दोष नागरिकों की हत्या की गई है।

उन्होंने कहा, 'इन लोगों के भी हमारी तरह सपने और उम्मीदें हैं। हमारी आंखों के सामने ही उन्हें बेरहमी से मौत के घाट उतारा जा रहा है। हमारी मानवता कहां है?' कांग्रेस नेता ने कहा कि भारत अंतरराष्ट्रीय मंच पर हमेशा सही के साथ खड़ा रहा है।

उन्होंने कहा, 'हमने दक्षिण अफ्रीका की रंगभेदी सरकार के खिलाफ प्रतिबंधों के लिए लड़ाई लड़ी। हमने फलस्तीन में आजादी के लिए अपने भाइयों और बहनों के लंबे संघर्ष की शुरुआत से ही उनका समर्थन किया है और अब हम धरती से उनका नामोनिशान मिटाने के लिए हो रहे नरसंहार को लेकर कुछ नहीं कर रहे हैं?'

प्रियंका ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय का एक सदस्य होने के नाते यह भारत का कर्तव्य है कि वह सही का साथ दे। उन्होंने कहा, 'हमें जल्द से जल्द संघर्ष विराम सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास करना चाहिए।'

(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें