DA Image
23 जनवरी, 2020|10:35|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

12 साल बाद दोस्त को देखकर प्रोटोकॉल भूले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, भीड़ से बुलाकर लगाया गले

president ramnath kovind meet his friend after 12 year in odisha  photo source- social media

दुनियाभर में अपने अच्छे दोस्तों के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं। इस रिश्ते में जाति-धर्म, पद, कद और पैसा कोई मायने नहीं रखते हैं। ऐसी ही एक नजीर सोमवार को राष्ट्रपति ने प्रोटोकॉल तोड़कर पेश की। एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने भीड़ में बैठे अपने दोस्त को पहचान लिया और उन्हें अपने पास मंच पर बैठाया। दोनों करीब 12 साल बाद मिले थे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार को ओडिशा के उत्कल विश्वविद्यालय के प्लेटिनम जुबली समारोह में शामिल हुए थे। जहां दर्शकों की भीड़ थी। ऐसे में मंच से राष्ट्रपति कोविंद की नजर भीड़ में बैठे अपने एक दोस्त पर पड़ी तो मिलने के लिए उन्होंने प्रोटोकॉल भी छोड़ दिया।
राष्ट्रपति ने भीड़ में बैठे अपने दोस्त को पगड़ी से पहचाना, फिर उन्होंने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से कहा की कि कार्यक्रम के बाद वह उनके मित्र को मंच पर बुला लाएं। जब दोनों मिले, तो उन्होंने एक-दूसरे को गले से लगा लिया। 

बता दें कि राष्ट्रपति कोविंद के वह दोस्त बीरभद्र सिंह हैं। बीरभद्र सिंह 2000 से 2006 तक राज्यसभा में एससी-एसटी कमेटी के सदस्य थे। उस वक्त राष्ट्रपति भी इसके सदस्य थे। दोनों ने दो वर्षों तक साथ काम किया। पूर्व राज्यसभा सांसद बीरभद्र सिंह ने कहा कि वे राष्ट्रपति से 12 साल बाद मिल रहे हैं, लेकिन उनका अंदाज पहले जैसा ही था। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:President Ramnath Kovind meet his friend after 12 year in odisha