DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कटक के चायवाले को मिला 'पद्मश्री', जानें इनकी कहानी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस साल 112 हस्तियों को राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में पद्म पुरस्कार से सम्मानित किया। राष्ट्रपति ने पहले एक पद्म विभूषण, आठ पद्म भूषण और 46 पद्मश्री वितरित किए थे और अन्य हस्तियों को आज अवॉर्ड दिए गए। इसमें एक ऐसा नाम भी शामिल रहा जो दिन में चाय बेचकर पैसा कमाते हैं और अपनी कमाई को गरीब बच्चों की पढ़ाई के लिए खर्च कर देते हैं।

कटक ओडिशा के डी प्रकाश राव को आज राष्ट्रपति ने पद्मश्री से सम्मानित किया। वे पिछले कई सालों से चाय बेच रहे हैं। खास बात ये है कि वो चाय से होने वाली कमाई का बड़ा हिस्सा गरीब बच्चों को शिक्षा और खाने का समान उपलब्ध करवाने में इस्तेमाल करते हैं।

शुरुआत में स्कूल चलाने का पूरा खर्चा वो खुद उठाते थे, लेकिन अब कुछ अन्य लोग भी इस काम में उनकी मदद कर रहे हैं। वे स्कूल आने वाले बच्चों को दूध और फ्रूट भी उपलब्ध करवाते हैं साथ ही प्रकाश राव बच्चों को पढ़ाते हैं। इतना ही नहीं प्रकाश अभी तक 200 से अधिक बार रक्तदान भी कर चुके हैं। 

राव कटक के बख्शीबाजार में एक स्लम में रहते हैं। यहीं उनकी चाय की दुकान है। प्रकाश बचपन में पढ़ाई करना चाहते थे, लेकिन जब वो ग्यारहवीं क्लास में थे तो उनके पिता को गंभीर बीमारी हो गई। इस वजह से पढ़ाई छोड़ वह दुकान चलाने लगे। हालांकि बाद में उन्होंने 2000 में एक स्कूल खोला और झुग्गी झोपड़ियों के बच्चों को पढ़ाना शुरू किया। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:President Ram Nath Kovind presented padma shri to tea seller of odisha