ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशप्रवीण हत्याकांड को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं के इस्तीफे, 'विधानसभा चुनाव में पार्टी को पड़ सकता है महंगा'

प्रवीण हत्याकांड को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं के इस्तीफे, 'विधानसभा चुनाव में पार्टी को पड़ सकता है महंगा'

बीजेपी के प्रदेश प्रचारक एमजी महेश ने बीजेपीवाईएम के पदाधिकारियों से अपने पदों से इस्तीफा नहीं देने की अपील की। उन्होंने यह वादा किया कि पार्टी उन्हें कभी भी निराश नहीं होने देगी।

प्रवीण हत्याकांड को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं के इस्तीफे, 'विधानसभा चुनाव में पार्टी को पड़ सकता है महंगा'
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरुSat, 30 Jul 2022 08:23 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के बेल्लारे में भाजपा युवा नेता प्रवीण नेत्तारू की हत्या का मामला जोर पकड़ता जा रहा है। प्रदेश भर में पार्टी की सोशल मीडिया प्रबंधन टीम समेत भाजपा युवा मोर्चा के कई पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है। इसे लेकर बीजेपी ने सीनियर नेता का कहना है कि इससे आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी को बड़ा झटका लग सकता है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कतील के खिलाफ काफी नाराजगी है। प्रवीण की हत्या के बाद विजयपुर, बगलकोट, दक्षिण कन्नड़, चित्रदुर्ग, हुबली और कोप्पल सहित विभिन्न जिलों के भाजपावाईएम कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है। इसके जरिए उन्होंने पार्टी नेताओं व सरकार को मैसेज भेजने का काम किया है।

कार्यकर्ताओं को मनाने का सिलसिला जारी
चिक्कमगलुरु जिला युवा मोर्चा के अध्यक्ष संदीप अरिविनंगडी ने इसे लेकर कार्यकर्ताओं से बातचीत की। संदीप ने उन्हें इस्तीफा देने के अपने फैसले को वापस लेने के लिए राजी भी कर लिया। पार्टी के सोशल मीडिया अकाउंट को मैनेज करने वाले करीब 100 लोगों ने ऐलान किया है कि वे इससे दूर रहेंगे। 

बीजेपी के प्रदेश प्रचारक एमजी महेश ने बीजेपीवाईएम के पदाधिकारियों से अपने पदों से इस्तीफा नहीं देने की अपील की। उन्होंने वादा किया कि पार्टी उन्हें कभी भी निराश नहीं होने देगी। वहीं, तुमकुर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने जिला कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना दिया और अपना इस्तीफा सौंप दिया। बीजेपी नेता रेखा शंभू ने अपने इस्तीफे में कहा कि धर्म उनके लिए अहम है और धर्म उनकी पहली प्राथमिकता भी है। 

'जांच एनआईए को सौंपने का फैसला'
वहीं, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि कर्नाटक सरकार ने नेत्तारू की हत्या की जांच एनआईए को सौंपने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि युवा भाजपा कार्यकर्ता की हत्या सुनियोजित और संगठित अपराध था। उन्होंने कहा, 'इसका अंतरराज्यीय आयाम देखने को मिल रहा है। इस मामले पर राज्य के डीजी और आईजी से बातचीत की है और पूरी जानकारी मांगी है।'

epaper