ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशप्रज्वल सेक्स वीडियो कांड पर एक्शन में कर्नाटक सरकार, CM ने PM को लिखा खत; लुकआउट नोटिस जारी

प्रज्वल सेक्स वीडियो कांड पर एक्शन में कर्नाटक सरकार, CM ने PM को लिखा खत; लुकआउट नोटिस जारी

मंत्री ने कहा कि लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। यह सूचित किया गया है कि उन्हें (प्रज्वल) एसआईटी के सामने पेश होना होगा। नोटिस दिए जाने के बाद उन्हें (एचडी रेवन्ना और प्रज्वल रेवन्ना को) पेश होना होगा।

प्रज्वल सेक्स वीडियो कांड पर एक्शन में कर्नाटक सरकार, CM ने PM को लिखा खत; लुकआउट नोटिस जारी
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 02 May 2024 02:29 PM
ऐप पर पढ़ें

अनेकों महिलाओं का यौन शोषण करने के आरोपों से घिरे हासन लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एवं जनता दल सेक्युलर (जदएस) गठबंधन के प्रत्याशी प्रज्वल रेवन्ना की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे तत्काल हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। उन्होंने विदेश एवं गृह मंत्रालय से सांसद प्रज्वल रेवन्ना का राजनयिक पासपोर्ट रद्द करने के लिए त्वरित कदम उठाने का आग्रह किया है। इसके अलावा, उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया है। कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए यह जानकारी दी।

बता दें कि प्रज्वल रेवन्ना कई महिलाओं के कथित यौन उत्पीड़न को लेकर जांच का सामना कर रहे हैं। वह हासन के मौजूदा सांसद हैं। हासन में मतदान होने के तुरंत बाद विदेश गये रेवन्ना ने मामले की जांच कर रही विशेष जांच टीम (एसआईटी) के समक्ष उपस्थित होने के लिए सात दिन का समय मांगा है। कर्नाटक पुलिस ने उनसे कथित रूप से जुड़े करीब 3000 अश्लील वीडियो एवं तस्वीर वायरल होने के बाद पूरे प्रकरण की जांच के लिए एसआईटी गठित की है।

इस मामले में कर्नाटक के होम मिनिस्टर ने संवाददाताओं से कहा,'' यह लुकआउट नोटिस यह पता चलने के तुरंत बाद जारी किया गया कि प्रज्वल रेवन्ना विदेश चले गए हैं। सभी बंदरगाहों और हवाई अड्डों को इस बारे में बता दिया गया है।” प्रज्वल रेवन्ना पूर्व प्रधानमंत्री और जद (एस) संरक्षक एचडी देवेगौड़ा के पोते और विधायक व पूर्व मंत्री एचडी रेवन्ना के बेटे हैं।

मंत्री ने कहा, "लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। यह सूचित किया गया है कि उन्हें (प्रज्वल रेवन्ना को) एसआईटी के सामने पेश होना होगा। नोटिस दिए जाने के बाद उन्हें (एचडी रेवन्ना और प्रज्वल रेवन्ना को) पेश होना होगा। अगर वे पेश नहीं होते हैं, तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।'' यह घटनाक्रम प्रज्वल रेवन्ना द्वारा जांच टीम के सामने पेश होने के लिए और समय मांगने के एक दिन बाद आया है। 

गृहमंत्री परमेश्वर ने आगे कहा, “आरोपी को समय दिए जाने के बारे में एसआईटी के सदस्य कानूनी राय ले रहे हैं। एसआईटी उन्हें गिरफ्तार करने के लिए कदम उठाएगी, क्योंकि 24 घंटे से अधिक समय देने का प्रावधान नहीं है। इससे पहले एक महिला ने प्रज्वल और उनके पिता के खिलाफ यौन उत्पीड़न को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने कहा कि एक और पीड़िता ने प्रज्वल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। मंत्री ने कहा, “पीड़िता के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। इस बीच एक और महिला ने शिकायत दर्ज कराई है, जिसके बारे में मैं जानकारी नहीं दे सकता।''

सिद्दारमैया ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर प्रज्वल का पासपोर्ट रद्द करने की मांग की

इससे पहले सीएम सिद्दारमैया ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा व विदेश एवं गृह मंत्रालय से सांसद प्रज्वल रेवन्ना का राजनयिक पासपोर्ट रद्द करने के लिए त्वरित कदम उठाने का आग्रह किया है। इसके अलावा उन्होंने सरकार से भागे हुए संसद सदस्य की शीघ्र स्वदेश वापसी की सुविधा के लिए घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राजनयिक तथा कानून प्रवर्तन चैनलों का उपयोग करने का भी आह्वान किया।

सिद्दारमैया ने अपने पत्र में कहा, “...आपसे विनम्र आग्रह है कि प्रज्वल रेवन्ना के राजनयिक पासपोर्ट को रद्द करने के लिए विदेश और गृह मंत्रालय को शीघ्र कार्रवाई करने के लिए प्रेरित करें और भारत सरकार के राजनयिक और पुलिस चैनलों साथ ही अंतरराष्ट्रीय पुलिस एजेंसियों का उपयोग करके ऐसे अन्य कदम उठाएं जाए जिससे फरार संसद सदस्य की शीघ्र वापसी हो ताकि कानून अपना काम कर सके।”