DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेट में दर्द की वजह से प्रज्ञा ठाकुर अस्पताल में भर्ती, बाद में छुट्टी दे दी गई

भोपाल से नवनिर्वाचित सांसद प्रज्ञा ठाकुर को पेट में दर्द की वजह से बुधवार की रात अस्पताल में भर्ती कराया गया और बृहस्पतिवार की सुबह उन्हें छुट्टी दे दी गई। प्रज्ञा 2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं और इस सप्ताह उन्हें मुंबई की एक विशेष अदालत में पेश होने का आदेश दिया गया था।

उनकी करीबी सहायक उपमा ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि प्रज्ञा ठाकुर को पेट में दर्द की वजह से बुधवार की रात अस्पताल में भर्ती कराया गया और बृहस्पतिवार की सुबह उन्हें छुट्टी दे दी गई।

उपमा ने यह भी बताया कि एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के तत्काल बाद प्रज्ञा अस्पताल लौटेंगी। सोमवार को एनआईए के विशेष जज वी एस पडालकर ने इस सप्ताह अदालत में पेशी से छूट के लिए दिया गया प्रज्ञा का आवेदन अस्वीकार कर दिया था।

ये भी पढ़ें: 'सरकार ने पिछले 5 वर्षों के दौरान देश में बदलाव की उम्मीद को बनाए रखा'

आवेदन में प्रज्ञा ने कहा था कि उन्हें संसद संबंधी कुछ औपचारिकताएं पूरी करनी हैं। अदालत ने कहा था कि मामले में फिलहाल प्रज्ञा की उपस्थिति जरूरी है। प्रज्ञा के पास अदालत के आदेश का पालन करने के लिए एक दिन का समय है।

उपमा ने कहा ''उनकी (प्रज्ञा की) तबियत ठीक नहीं है। इलाज के लिए कल रात उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें पेट में तकलीफ है और इंजेक्शन के जरिये उन्हें दवाएं दी गईं।

उन्होंने कहा ''उन्हें अस्पताल से आज सुबह छुट्टी दे दी गई और कार्यकर्ताओं के बहुत जोर देने पर वह एक कार्यक्रम में शामिल हो रही हैं। लेकिन कार्यक्रम के तत्काल बाद वह अस्पताल लौट जाएंगी क्योंकि उनकी तबियत ठीक नहीं है। 

ये भी पढ़ें: जानिए, मायावती ने क्यों कहा- अब पछताये क्या हो, जब चिड़िया चुग गई खेत

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pragya Thakur hospitalised due to pain in the stomach later discharged