ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशपुणे में जहां 2 मरे वहां विरोध में लिखे गए निबंध, टॉपिक था- मेरे पिता बिल्डर होते तो मैं क्या करता

पुणे में जहां 2 मरे वहां विरोध में लिखे गए निबंध, टॉपिक था- मेरे पिता बिल्डर होते तो मैं क्या करता

प्रतियोगियों को चुनने के लिए 10 टॉपिक दिए गए थे। इनमें 'अगर मेरे पिता बिल्डर होते, तो मैंने क्या किया होता', 'शराब पीने के नुकसान', 'मेरी पसंदीदा कार', 'कानून सभी के लिए समान है' शामिल हैं।

पुणे में जहां 2 मरे वहां विरोध में लिखे गए निबंध, टॉपिक था- मेरे पिता बिल्डर होते तो मैं क्या करता
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,पुणेMon, 27 May 2024 10:18 AM
ऐप पर पढ़ें

Pune Porsche Car Accident Update: पोर्शे कांड को लेकर पुणे की आम जनता में भी हलचल तेज है। खबर है कि अब नाबालिग आरोपी को शुरुआत में मिली जमानत के विरोध में घटनास्थल पर निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया। 19 मई ,रविवार की सुबह कल्याणीनगर में हुई घटना में मध्य प्रदेश के रहने वाले एक युवक और एक युवती की मौत हो गई थी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को करीब 100 लोगों ने कल्याणीनगर में घटनास्थल पर हुई प्रतियोगिता में भाग लिया। खबर है कि इस प्रतियोगिता को सामाजिक कार्यकर्ता चांगदेव गीते ने आयोजित कराया था। साथ ही इस प्रतियोगिता के विजेता को इनाम में 11 हजार 111 रुपये देने का भी वादा किया गया था। कार चला रहे आरोपी की उम्र 17 साल के आसपास है।

अखबार से बातचीत में गीते ने कहा, 'यह मुद्दा गंभीर है और अजीब बात है कि दो लोगों की जान लेने के बाद जमानत की शर्त 300 शब्दों का निबंध थी। मैं इससे कोर्ट में नहीं लड़ सकता, लेकिन मैं इस अन्याय को सभी को दिखाना चाहता हूं। निबंध लेखन विरोध दर्ज कराने का मेरा तरीका है।' इस प्रतियोगिता में शामिल अधिकांश लोग 30-40 साल के हैं।

खास बात है कि इनमें कुछ प्रतियोगी 18 साल से कम उम्र के भी थे। साथ ही सरकारी सेवाओं की तैयारी कर रहे छात्र भी इसमें भाग ले रहे थे।

दिलचस्प थे निबंध के टॉपिक
रिपोर्ट के मुताबिक, प्रतियोगियों को चुनने के लिए 10 टॉपिक दिए गए थे। इनमें 'अगर मेरे पिता बिल्डर होते, तो मैंने क्या किया होता', 'शराब पीने के नुकसान', 'मेरी पसंदीदा कार', 'कानून सभी के लिए समान है', 'क्या भारत में कानून में समानता है', 'हादसों से बचने के लिए कैसे बेहतर सड़कें बनाएं', 'आज का युवा और लत से उसका संबंध' समेत कई टॉपिक शामिल थे।