ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशआखिरी वोटिंग से पहले साधना में लीन हो जाएंगे PM मोदी, यहीं विवेकानंद ने लगाया था ध्यान

आखिरी वोटिंग से पहले साधना में लीन हो जाएंगे PM मोदी, यहीं विवेकानंद ने लगाया था ध्यान

लोकसभा चुनाव का प्रचार समाप्त होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी साधना में लीन होंगे। वह कन्याकुमारी स्थित रॉक मेमोरियल पर एक दिन और एक रात ध्यान लगाएंगे। यहीं पर कभी विवेकानंद ने साधना की थी।

आखिरी वोटिंग से पहले साधना में लीन हो जाएंगे PM मोदी, यहीं विवेकानंद ने लगाया था ध्यान
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 28 May 2024 05:24 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव का प्रचार समाप्त होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी साधना में लीन होंगे। वह कन्याकुमारी स्थित रॉक मेमोरियल पर एक दिन और एक रात ध्यान लगाएंगे। यह वही स्थान है, जहां कभी स्वामी विवेकानंद ने ध्यान साधना की थी। पीएम नरेंद्र मोदी ध्यान मंडपम में 30 मई की शाम से 1 जून की शाम तक ध्यान लगाएंगे। पहले भी पीएम नरेंद्र मोदी ध्यान साधना करते रहे हैं। केदारनाथ में भी उन्होंने ध्यान लगाया था। इस बार वह कन्याकुमारी में ध्यान लगाएंगे। यह स्थान भी खास है क्योंकि वहीं पर स्वामी विवेकानंद तपस्या में लीन हुए थे और कहा जाता है कि यहीं उन्हें भारत के दर्शन हुए थे।

यहां साधना करने के बाद स्वामी विवेकानंद की जिंदगी में क्रांतिकारी परिवर्तन आया था। मान्यता है कि जैसे सारनाथ का गौतम बुद्ध की जिंदगी में स्थान था, वैसा ही स्थान रॉक मेमोरियल का स्वामी विवेकानंद की लाइफ में रहा है। वह पूरे देश में भ्रमण करने के बाद यहां आए थे और तीन दिन तक यहां साधना की थी। यहीं पर स्वामी विवेकानंद ने विकसित भारत का सपना देखा था। कहा जा रहा है कि यहीं पर पीएम मोदी ध्यान लगाएंगे और स्वामी जी के विकसित भारत के सपने को साकार करने का संकल्प दोहराएंगे।

एक मान्यता है कि देवी पार्वती ने भी भगवान शिव की प्रतीक्षा में यहां एक पैर पर खड़े होकर ध्यान लगाया था। भारत का यह दक्षिणतम हिस्सा है और यहीं पर पूर्वी और पश्चिमी तट आकर मिलते हैं। हिंद महासागर, बंगाल की खाड़ी और अरब सागर के संगम का भी यही स्थान है। इस तरह भारतीय मान्यताओं के लिहाज से यह स्थान बेहद पवित्र है। पीएम नरेंद्र मोदी इस स्थान से राष्ट्रीय एकता का भी संदेश देंगे। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव के दौरान भी दक्षिण भारत पर काफी फोकस किया था और वह कई बार तमिलनाडु के दौरे पर गए थे। इसके अलावा केरल, कर्नाटक और तेलंगाना जैसे राज्यों के भी उन्होंने खूब दौरे किए।