DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

PM मोदी ने दी इमरान को राष्ट्रीय दिवस की शुभकामनाएं, कहा- शांति के लिए साथ चलने का वक्त आ गया है

Pakistan began a crackdown against militant groups this week amid growing international pressure in

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को संदेश भेजकर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान एवं वहां के लोगों को शुभकामनाएं दीं। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा कि वक्त आ गया है कि उपमहाद्वीप के लोग आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण में लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण, प्रगतिशील और समृद्ध क्षेत्र के लिये मिलकर काम करें।

मोदी का यह संदेश पुलवामा हमले के बाद परमाणु संपन्न दोनों पड़ोसी देशों के बीच संबंधों में आये जबरदस्त तनाव के बीच आया है। पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी ठिकाने पर हवाई कार्रवाई की थी।

कश्मीरी अलगाववादी नेताओं को बुलाने पर भारत सख्त, PAK राष्ट्रीय दिवस का किया बहिष्कार

उल्लेखनीय है कि भारत ने शुक्रवार को यहां नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग में देश के राष्ट्रीय दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम का बहिष्कार किया था। भारत ने कार्यक्रम में जम्मू कश्मीर से कई अलगाववादी नेताओं को आमंत्रित किये जाने पर विरोध भी जताया था।

इमरान खान ने भी प्रधानमंत्री मोदी के संदेश पर ट्वीट किया। खान ने कहा, ''प्रधानमंत्री मोदी का संदेश मिला, जिसमें लिखा है: मैं पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर देश की जनता और बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। यह वक्त है जब उपमहाद्वीप के लोग आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण में लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण, प्रगतिशील और समृद्ध क्षेत्र के लिये मिलकर काम करें।"

पाक उच्चायुक्त को उम्मीद: लंबे समय से ठण्डे पड़े भारत-पाकिस्तान रिश्तों में जल्द आएगी गर्माहट
वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान ने शुक्रवार को कहा कि हालिया घटनाक्रम से यह तथ्य सामने आया है कि भारत-पाकिस्तान संबंधों के लिए संवादहीनता "खतरनाक शून्य और गंभीर जोखिम" पैदा करती है। इसके साथ पाकिस्तान ने उम्मीद जतायी कि लंबे समय से ठण्डे पड़े रिश्तों में जल्द ही गर्माहट आएगी।

भारत में पाकिस्तानी उच्चायुक्त सोहेल महमूद ने पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस की पूर्वसंध्या पर एक समारोह में कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की रिहाई, दोनों उच्चायुक्तों की अपने अपने मिशनों में वापसी और करतारपुर गलियारे पर द्विपक्षीय बातचीत सकारात्मक दिशा में कदम हैं।

उन्होंने कहा कि पूर्व में उठाए गए प्रतिरोधी कदम कारगर नहीं रहे और भविष्य में भी काम नहीं आएंगे। उन्होंने कहा कि आपसी समझ बढ़ाने, परस्पर चिंताओं का समाधान करने और जम्मू-कश्मीर सहित लंबे समय से चले आ रहे विवादों को सुलझाने के लिए कूटनीति और बातचीत अपरिहार्य हैं।

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में बीते 14 फरवरी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक काफिले पर आत्मघाती आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद जिसका सरगना मसूद अजहर है, ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस घटना के बाद से भारत और पाकिस्तान के रिश्ते में काफी तनाव आ गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PM Narendra Modi sends greetings to Imran Khan on eve of Pak National Day