ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशसंबंध देखूं या ओडिशा के बारे में सोचूं, PM मोदी ने बताया 'दोस्त' पटनायक से क्यों नहीं किया गठबंधन

संबंध देखूं या ओडिशा के बारे में सोचूं, PM मोदी ने बताया 'दोस्त' पटनायक से क्यों नहीं किया गठबंधन

PM ने कहा, 'भारत के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से हमारे अच्छे संबंध हैं और लोकतंत्र में हम दुश्मनी नहीं रखते हैं। अब सवाल है कि मैं अपने संबंधों की चिंता करूं या ओडिशा के कल्याण के बारे में सोचूं।

संबंध देखूं या ओडिशा के बारे में सोचूं, PM मोदी ने बताया 'दोस्त' पटनायक से क्यों नहीं किया गठबंधन
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 28 May 2024 10:47 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा के साथ-साथ ओडिशा में भी विधानसभा चुनाव जारी है। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ गठबंधन नहीं होने पर भी खुलकर बात की है। उन्होंने बताया कि वह ओडिशा के कल्याण के लिए अपने रिश्ते की कुर्बानी देने के लिए तैयार थे। साथ ही उन्होंने कहा कि वह चुनाव के बाद सभी को बता देंगे कि उनकी किसी से भी दुश्मनी नहीं है।

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से हमारे अच्छे संबंध हैं और लोकतंत्र में हम दुश्मनी नहीं रखते हैं। अब सवाल है कि मैं अपने संबंधों की चिंता करूं या ओडिशा के कल्याण के बारे में सोचूं। मैंने खुद को ओडिशा के उज्जवल भविष्य के प्रति समर्पित करने का फैसला किया और अगर मुझे इसके लिए मेरे रिश्तों की कुर्बानी देनी होगी, तो मैं ऐसा करूंगा। चुनाव के बाद मैं सभी को समझा दूंगा कि मेरी किसी से कोई भी दुश्मनी नहीं है।'

पीएम मोदी ने ओडिशा सरकार पर भी हमला बोला और कहा कि एक समूह ने यहां कब्जा कर लिया है। उन्होंने कहा, 'बीते 25 सालों में ओडिशा में कोी भी प्रगति नहीं हुआ है। सबसे बड़ी चिंता यह है कि एक टोली ने ओडिशा के पूरे सिस्टम पर कब्जा कर लिया है। ऐसा लगता है कि पूरे सिस्टम को बंधक बना लिया गया है। स्वभाविक बात है कि अगर ओडिशा इससे बाहर आएगा, तो तरक्की करेगा।'