PM Narendra Modi condemns Serial blasts in Sri Lanka says there is no place for such barbarism - पीएम मोदी ने श्रीलंका को हर मदद का भरोसा दिलाया, हमले को बताया 'निर्मम और बर्बर कृत्य' DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएम मोदी ने श्रीलंका को हर मदद का भरोसा दिलाया, हमले को बताया 'निर्मम और बर्बर कृत्य'

sri lanka serial blast in colombo church hotels   reuters photo

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने श्रीलंका में रविवार को हुए सिलसिलेवार धमाकों की निंदा की और इस संबंध में वहां के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से फोन पर बात की। प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना और प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के साथ अपनी बातचीत के दौरान मोदी ने धार्मिक स्थलों समेत कई जगहों पर हुए सिलसिलेवार धमाकों की कड़े शब्दों में निंदा की।

हमलों को “निर्मम और पूर्व नियोजित बर्बर कृत्य” करार देते हुए मोदी ने कहा कि यह हमले एक बार फिर इस क्षेत्र और समूची दुनिया में आतंकवाद द्वारा मानवता के सामने रखी गई गंभीर चुनौती को दर्शाते हैं। बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने एक बार फिर आतंकवाद जैसी चुनौतियों से सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये श्रीलंका को हरसंभव मदद और सहायता देने की पेशकश की है। उन्होंने घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की और इलाज में जरूरी सहायता में मदद की पेशकश की।

श्रीलंका चर्च ब्लास्ट: पूरे देश में शाम 6 से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू, सोशल मीडिया को ब्लॉक करने का फैसला

धमाकों की निंदा करते हुए मोदी ने कहा कि क्षेत्र में बर्बरता की कोई जगह नहीं है और भारत इस द्वीपीय राष्ट्र की जनता के साथ है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया,''श्रीलंका में हुए भयावह विस्फोटों की निंदा करता हूं। हमारे क्षेत्र में इस प्रकार की बर्बरता के लिए कोई स्थान नहीं है।" मोदी ने कहा, ''मारे गए लोगों के परिजन के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं तथा घायलों के लिए हमारी प्रार्थनाएं हैं।"

मोदी ने बाद में राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “श्रीलंका में आतंकवादियों द्वारा कई निर्दोष लोगों की हत्या कर दी गई। उस समय वे चर्च में प्रार्थना कर रहे थे और ईस्टर मना रहे थे। आतंकवादियों ने बच्चों और महिलाओं समेत कई लोगों की जान ले ली। मैं अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं।” उन्होंने कहा, “भारत श्रीलंका के साथ खड़ा है और संकट की इस घड़ी में उसकी हर मदद के लिये तैयार है।”

श्रीलंका : 8 बम विस्फोटों में 200 से ज्यादा मरे
श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के दिन एक के बाद एक हुए लगातार आठ बम विस्फोटों में कम से कम 215 लोगों की मौत हो गई है और करीब 500 लोग घायल हो गए हैं। इनमें से अधिकांश विस्फोट राजधानी कोलंबो में हुए हैं। श्रीलंका में गृहयुद्ध के अंत के बाद यह सबसे बड़ा खूनखराबा वाला दिन है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, शृंखलाबद्ध बम विस्फोटों में मृतकों की संख्या बढ़कर 215 हो गई है। इनमें से दो बम विस्फोट अपराह्न में कोलंबो के दो पड़ोसी इलाके में हुए हैं।

श्रीलंका: विस्फोट के बाद सेबेस्टियन चर्च का खौफनाक मंजर, दीवारों पर खून के निशान और शवों के टुकड़े

बम विस्फोट की शुरुआत कोलंबो स्थित कोच्चिकाडे के सेंट एंथनी चर्च से शुरू हुई, जहां सैकड़ों लोग ईस्टर की प्रार्थना सभा के लिए जमा हुए थे और आधा घंटे के भीतर ही यहां से 30 किलोमीटर दूर नेगोम्बो के सेंट सेबेस्तियन चर्च में विस्फोट हुआ और फिर कोलंबो से 250 किलोमीटर दूर पूर्व में बट्टिकालोआ में स्थित जियॉन चर्च में विस्फोट हुआ। 

आत्मघाती हमलावरों ने कोलंबो के तीन लक्जरी होटलों में ईस्टर की भीड़ के बीच खुद को उड़ा लिया। ये होटल सिनामन ग्रैंड (श्रीलंका के प्रधानमंत्री के आधिकारिक निवास के पास) शंगरी ला और किंग्सबरी होटल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PM Narendra Modi condemns Serial blasts in Sri Lanka says there is no place for such barbarism