ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशसोशल मीडिया से अब हटा सकते हैं 'मोदी का परिवार', पीएम मोदी ने क्‍यों की यह अपील; बताई वजह

सोशल मीडिया से अब हटा सकते हैं 'मोदी का परिवार', पीएम मोदी ने क्‍यों की यह अपील; बताई वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पोस्ट में कहा गया, 'चुनाव प्रचार के दौरान पूरे भारत में लोगों ने मेरे प्रति स्नेह के तौर पर सोशल मीडिया अकाउंट्स पर 'मोदी का परिवार' जोड़ा। इससे मुझे काफी ताकत मिली।'

सोशल मीडिया से अब हटा सकते हैं 'मोदी का परिवार', पीएम मोदी ने क्‍यों की यह अपील; बताई वजह
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 07:42 PM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय जनता पार्टी की ओर से लोकसभा चुनाव के दौरान 'मोदी का परिवार' कैंपेन चलाया गया। इसके तहत, बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स नाम के आगे 'मोदी का परिवार' लिखना शुरू कर दिया। एक्स, फेसबुक, इंस्टाग्राम से लेकर दूसरी सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कई लोगों ने नाम के आगे 'मोदी का परिवार' लिख दिया। मगर, अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद यह अपील की है कि वे लोग अपने सोशल मीडिया प्लेफॉर्म्स से 'मोदी का परिवार' हटा सकते हैं। 

पीएम मोदी के ऑफिशियल एक्स हैंडल पर इसे लेकर मंगलवार शाम को एक पोस्ट किया गया। इसमें कहा गया, 'चुनाव प्रचार के दौरान पूरे भारत में लोगों ने मेरे प्रति स्नेह के तौर पर सोशल मीडिया अकाउंट्स पर 'मोदी का परिवार' जोड़ा। इससे मुझे काफी ताकत मिली। देश के लोगों ने NDA को लगातार तीसरी बार बहुमत दिया। यह एक तरह का रिकॉर्ड है। हमें अपने देश की बेहतरी के लिए काम करते रहने का जनादेश मिला है।'

पीएम मोदी ने अपनी पोस्ट में क्या कहा
प्रधानमंत्री मोदी की पोस्ट में आगे कहा गया, 'हम सभी एक परिवार हैं। यह संदेश प्रभावी ढंग से पहुंचाए जाने को लेकर मैं एक बार फिर देश की जनता को धन्यवाद देता हूं। यह अपील भी करता हूं कि अब आप अपने सोशल मीडिया प्रॉपर्टी से 'मोदी का परिवार' हटा सकते हैं। इससे भले ही डिस्प्ले नाम बदल जाए, लेकिन भारत की प्रगति के लिए प्रयास करने वाले परिवार के रूप में हमारा बंधन मजबूत और अटूट है।'

विदेश यात्रा पर जाने वाले हैं प्रधानमंत्री
गौरतलब है कि पीएम मोदी लगातार तीसरे कार्यकाल का कार्यभार संभालने के बाद अपनी पहली विदेश यात्रा पर जाने वाले हैं। इसके तहत, वह वार्षिक जी7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए इस सप्ताह इटली का दौरा करेंगे।जी-7 शिखर सम्मेलन का आयोजन इटली के अपुलिया क्षेत्र में लग्जरी रिजॉर्ट बोरगो एग्नाजिया में 13 से 15 जून तक होना है। बैठक में यूक्रेन में युद्ध और गाजा संघर्ष का मुद्दा छाये रहने की संभावना है। जी-7 विश्व की सात उन्नत अर्थव्यवस्थाओं का समूह है जिसमें अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली, जर्मनी, कनाडा और जापान शामिल हैं।