ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशवैक्सीनेशन के ऐलान पर पीएम मोदी बोले- कोरोना से लड़ाई में भारत का बड़ा कदम

वैक्सीनेशन के ऐलान पर पीएम मोदी बोले- कोरोना से लड़ाई में भारत का बड़ा कदम

देश में कोरोना वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। देश में कोरोना टीकाकरण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अधिकारियों के साथ हाई लेवल मीटिंग के बाद यह फैसला लिया गया। वैक्सीनेशन शुरू होने...

वैक्सीनेशन के ऐलान पर पीएम मोदी बोले- कोरोना से लड़ाई में भारत का बड़ा कदम
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 09 Jan 2021 08:09 PM
ऐप पर पढ़ें

देश में कोरोना वैक्सीनेशन 16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। देश में कोरोना टीकाकरण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अधिकारियों के साथ हाई लेवल मीटिंग के बाद यह फैसला लिया गया। वैक्सीनेशन शुरू होने के ऐलान के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि '16 जनवरी को, भारत कोविड-19 से लड़ाई में एक महत्वपूर्ण कदम आगे बढ़ाएगा। इस दिन से भारत का राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू होगा। हमारे बहादुर डॉक्टरों, हेल्थकेयर वर्कर्स, सफाई कर्मचारियों सहित फ्रंटलाइन कर्मचारियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

बता दें कि टीकाकरण की घोषणा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा एक उच्च स्तरीय बैठक में देश में कोरोना महामारी की वर्तमान स्थिति और टीकाकरण के मद्देनजर राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों की तैयारियों का जायजा लेने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा शनिवार को की गई।

प्रधानमंत्री ने इस टीकाकरण अभियान को विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान बताया और कहा कि इसमें करीब तीन करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों को प्राथमिकता दी जाएगी। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने कोविड-19 प्रबंधन से जुड़े विभिन्न पहलुओं की विस्तृत समीक्षा की। 

बयान में कहा गया, आगामी लोहड़ी, मकर संक्रांति, पोंगल और माघ बिहू जैसे त्योहारों के मद्देनजर विस्तृत समीक्षा के बाद फैसला लिया गया कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी, 2021 से आरंभ किया जाएगा। बैठक में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, स्वास्थ्य सचिव सहित कई अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। बयान में कहा गया कि करीब तीन करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों के बाद 50 वर्ष से अधिक आयु के करीब 27 करोड़ व्यक्तियों और अन्य बीमारियों से ग्रसित 50 वर्ष से कम आयु के व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाएगा।

epaper