PM Modi says fears about someone do not abuse Om Birlas humility - पीएम मोदी बोले- डर लगता है, बिड़ला की नम्रता का कोई दुरुपयोग न कर ले DA Image
19 नबम्बर, 2019|5:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएम मोदी बोले- डर लगता है, बिड़ला की नम्रता का कोई दुरुपयोग न कर ले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोकसभा के नए अध्यक्ष ओम बिड़ला की तारीफ करते हुए कहा कि वह अनुभव और सुगमता के साथ लोकसभा का संचालन करेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि अध्यक्ष होने के नाते ओम बिड़ला को सभी को अनुशासित करने और सत्तापक्ष को भी नियमों की अवहेलना पर टोकने का अधिकार होगा। मोदी ने विश्वास दिलाया कि सरकार उनके कामकाज को सरल बनाने में पूरा योगदान देगी।

ओम बिड़ला की मुस्कुराहट का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि डर लगता है कि उनकी नम्रता का कोई दुरुपयोग नहीं कर ले। प्रधानमंत्री ने कहा, बिरला सार्वजनिक जीवन में विद्यार्थी काल में छात्र संगठनों से जुड़ते हुए जीवन के सर्वाधिक उत्तम समय में किसी भी विराम के बिना समाज की किसी न किसी गतिविधि से जुड़े रहे। 

उन्होंने कहा कि आपको इस पद पर आसीन होते हुए देखना अत्यंत हर्ष और गर्व का विषय है। उन्होंने कहा कि बिड़ला की कार्यशैली समाज केंद्रित रही है। उन्होंने गुजरात के कच्छ में भूकंप के समय और केदारनाथ की आपदा के समय अपनी टीम के साथ उपलब्ध सीमित व्यवस्थाओं में लंबे समय तक सेवा कार्य किया।  

अध्यक्ष चुने जाने के लिए प्रस्ताव

ओम बिड़ला को अध्यक्ष के तौर पर चुने जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, शिवसेना के अर्रंवद सावंत, बीजद के पिनाकी मिश्रा, अकाली दल के सुखबीर बादल, जद(यू) के राजीव रंजन, केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा, प्रहलाद जोशी, कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी, डीएमके के टीआरबालू और तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय ने प्रस्ताव रखे।

निष्पक्षता से सदन चलाऊंगा : बिड़ला

भाजपा सांसद और राजग उम्मीदवार ओम बिड़ला को बुधवार को सर्वसम्मति से लोकसभा अध्यक्ष चुन लिया गया। पद संभालने के बाद उन्होंने कहा कि वह निष्पक्षता के साथ सदन चलाएंगे और कम संख्या वाले दलों को भी पर्याप्त समय दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार से ज्यादा जवाबदेही और पारदर्शिता की अपेक्षा है। लोकसभा अध्यक्ष ने सदस्यों से कहा कि वे केंद्र सरकार से जुड़े मुद्दे विशेषकर बुनियादी मुद्दे उठाएं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि सदस्य ऐसे मुद्दे उठाते हैं जिनका केंद्र सरकार से कोई संबंध नहीं होता है।

‘कचौड़ी की तरह सदन को स्वादिष्ट बनाए रखेंगे’ 

लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कोटा की मशहूर कचौड़ी की याद दिलाते हुए कहा कि लोकसभा अध्यक्ष सदन को उसकी तरह स्वादिष्ट बनाए रखेंगे।

जीएसटी परिषद की बैठक आज, इलेक्ट्रिक वाहनों पर GST में कमी संभव

'एक राष्ट्र एक चुनाव' पर बनेगी समिति, जो तय सीमा में देगी अपनी रिपोर्ट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:PM Modi says fears about someone do not abuse Om Birlas humility