ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशकीचड़ उसके पास था, मेरे पास गुलाल... अडानी मसले पर हंगामा कर रहे विपक्ष पर पीएम मोदी का शायराना तंज

कीचड़ उसके पास था, मेरे पास गुलाल... अडानी मसले पर हंगामा कर रहे विपक्ष पर पीएम मोदी का शायराना तंज

PM Modi LIVE: विपक्षी सदस्यों ने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के शुरुआत से ही बाधित किया। सांसद अडानी समूह के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए जेपीसी गठन की मांग को लेकर आसन के समीप आकर नारेबाजी की।

Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 09 Feb 2023 02:42 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा के बाद गुरुवार को राज्यसभा में भाषण देते हुए विपक्षी सांसदों के हंगामे पर निशाना साधा। पीएम मोदी के भाषण के दौरान विपक्षी सांसदों ने लगातार अडानी मामले को उठाते हुए नारेबाजी की। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों की वाणी निराश करने वाली है। उन्होंने शायराना अंदाज में कहा, ''कीचड़ उसके पास था, मेरे पास गुलाल; जो भी जिसके पास था, उसने दिया उछाल। यह सही बात है कि आप जितना कीचड़ उछालोगे, उतना ही कमल खिलेगा। आप लोगों का कमल खिलाने में अहम योगदान रहा है। इसके लिए मैं उनका भी आभार व्यक्त करता हूं।''

राज्यसभा में प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि उनके पास एक दौर में पंचायत से लेकर संसद तक ताकत थी, लेकिन देश के लिए काम नहीं किया। आज हमारी सरकार की पहचान बनी है तो इसकी वजह हमारा पुरुषार्थ है। हम हर मसले के स्थायी समाधान की ओर बढ़ने का प्रयास करते हैं। किसी भी समस्या को छूकर भागने वाले लोग हम नहीं हैं।

कांग्रेस समेत विपक्षी सदस्यों ने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण के शुरुआत से ही बाधित किया। सांसद अडानी समूह के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए जेपीसी गठन की मांग को लेकर आसन के समीप आकर नारेबाजी की। हंगामे के बीच ही प्रधानमंत्री का भाषण जारी रहा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि 60 साल कांग्रेस के परिवार ने गड्ढे ही गड्ढे कर दिए थे। हो सकता है उनका इरादा न हो, लेकिन उन्होंने किए। जब वो गड्ढे खोद रहे थे, 6 दशक बर्बाद कर चुके थे। तब दुनिया के छोटे-छोटे देश भी सफलता के शिखरों को छू रहे थे। बीते दशकों में अनेक बुद्धिजीवियों ने इस सदन से देश को दिशा दी है, देश का मार्गदर्शन किया है। इस देश में जो भी बात होती है उसे देश बहुत गंभीरता से सुनता है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोगों का व्यवहार और वाणी न केवल सदन, बल्कि देश को निराश करने वाली है। पीएम मोदी ने कहा, ''कांग्रेस केवल प्रतीकवाद में शामिल रहती है, देश की समस्याओं के स्थायी हल के लिए उसने कभी प्रयास नहीं किया।''

'पानी की टंकी का उद्घाटन प्रधानमंत्री करते थे'
प्रधानमंत्री ने कहा कि हर घर नल की ही बात करें तो हम करोड़ों लोगों तक पहुंचा रहे हैं। पर एक दौर वह भी था कि पानी की टंकी का उद्घाटन प्रधानमंत्री करते थे। इससे समझ सकते हैं कि वे कैसे काम करते थे। हम सरकार में आए थे, तब तक 3 करोड़ घरों तक नल से जल मिलता था। पर हमारे सरकार में आने के बाद यह आंकड़ा 11 करोड़ तक पहुंच गया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, ''कल खड़गे जी शिकायत कर रहे थे कि पीएम नरेंद्र मोदी बार-बार मेरे क्षेत्र में आ जाते हैं। मैं कहता हूं कि यह भी तो देखो कि कर्नाटक में 1 करोड़ 70 लाख जनधन खाते खुले हैं। यहां तक कि उनके ही इलाके में 8 लाख से ज्यादा खाते खुले हैं। अब आप बताइए कि इतने बैंक के खाते खुल जाएं और लोग सशक्त हो जाएं और किसी का इतने सालों बाद खाता बंद हो जाए तो उनकी पीड़ा मैं समझता हूं।''