DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमरनाथ यात्रा हमला: श्राइन बोर्ड में रजिस्टर्ड नहीं थी श्रद्धालुओं की बस

Injured AmarnathYatra pilgrims admitted to hospital in Anantnag

अमरनाथ यात्रा पर हमले के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ताजा स्थिति की जानकारी दी है। प्रधानमंत्री ने राज्यपाल एनएन वोहरा और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से बात की है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह की भी राज्यपाल और मुख्यमंत्री से बात हुई। बातचीत में तय किया गया है कि अमरनाथ यात्रा को स्थिति सामान्य होते ही जारी रखा जाएगा। गृहमंत्री ने घायलों की उपचार में हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। वहीं, जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक बयान में कहा कि अमरनाथ यात्रा को रोकने के लिए ही हमला हुआ है, पर हमले के बावजूद यात्रा जारी रहेगी। वहीं रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अमरनाथ यात्रा पर आतंकवादी हमला सबसे निंदनीय कृत्य है। 

श्रद्धालुओं की बस सुरक्षा कवर से बाहर थी 
शुरुआती जानकारी के मुताबिक अमरनाथ यात्रियों की जिस बस पर हमला हुआ वो साइट देखने के लिए जत्थे से अलग हो गई थी। जिस वक्त हमला हुआ बस सिक्योरिटी कवर से बाहर थी। हालांकि बस को जत्थे से बाहर होने की इजाजत कैसे दी गई,यह सवाल बना हुआ है।

सुरक्षा में बड़ी चूक 
यात्रा के पूरे रुट पर खुफिया एजेंसियों ने हमले का अलर्ट जारी किया था। इसके बावजूद इस इलाके में आतंकियों की मौजूदगी और हमले में कामयाबी को सुरक्षा में बड़ी चूक माना जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने दुख जताया 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू कश्मीर में शांतिपूर्ण अमरनाथ यात्रियों पर कायरतापूर्ण हमले पर दुख जताने के लिए शब्द नहीं हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, भारत इस तरह के कायरतापूर्ण हमलों और नफरत के नापाक मंसूबे के आगे कभी नहीं झुकने वाला। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल और मुख्यमंत्री से बात की और हरसंभव सहायता के प्रति आश्वस्त किया। 

सीमा पर हाई अलर्ट
हमले के बाद पूरे जम्मू कश्मीर सहित सीमा पर अलर्ट किया गया है। सांबा, रामबन, जम्मू, ऊधमपुर को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

आतंकी हमले की चारों तरफ निंदा 
जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अमरनाथ यात्रियों पर आतंक हमले की कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा हर सही सोच वाले कश्मीरी को इस हमले की निंदा करनी चाहिए। वहीं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि अनंतनाग मे अमरनाथ यात्रियों पर आतंकियों का कायरतापूर्ण हमला निंदनीय है। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति और घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करे। 
कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले में 7 यात्रियों की हत्या की दुखद खबर पर गहरा शोक और संवेदना। उन्होंने पूछा सुरक्षा में कहां चूक हुई है। आतंक को मुंहतोड़ जबाब दें। अलगाववादी नेता मीर वाइज ने भी अनंतनाग में आतंकी हमले की निंदा की है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pilgrims bus not registered in Shrine Board