DA Image
27 जनवरी, 2020|8:57|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दुश्मनों को फंसाने ने खुद को गोली मार रहे लोग, जानें क्या है पूरा मामला

shoot to national wrestling coach

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के चंबल संभाग के भिंड जिले में अब लोग दुश्मनों से बदला लेने के लिए अपनों को भी गोली मारने से नहीं चूक रहे हैं। जिले में हाल ही में इस तरह की कई घटनाएं सामने आने के बाद पुलिस सतर्क हो गई है। कई मामलों में झूठा मुकदमा दर्ज कराने वालों पर उल्टी कार्रवाई भी हुई है।

पुलिस अधीक्षक रुडोल्फ अल्वारेस ने बताया कि अभी हाल में कुछ इस तरह के केस सामने आए हैं, जिसमें लोगों ने खुद को घायल करके दूसरों को फंसाने के लिए झूठे नाम लिखाए हैं। सही आरोपी तक पहुंचने में समय लगा, लेकिन किसी भी निर्दोष को नहीं फंसने दिया गया।

सूत्रों के मुताबिक जिले के गिरवासा गांव में फरवरी में तुलसीराम दीक्षित (60) गोली लगने से घायल हो गए थे। उनके बेटे ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए गांव के ही कुछ लोगों पर इसका आरोप लगाया। जांच के दौरान गोली लगने की दिशा और दुश्मनों द्वारा गोली मारने वाली दिशा में अंतर पाया गया। सामने आया कि गोली किसी और ने नहीं बल्कि उनके बेटे ने ही अपने दुश्मनों को फंसाने के लिए मारी है। बाद में पुलिस ने बेटे से घटना में प्रयुक्त कट्टा भी बरामद कर लिया।गुजरात दंगा:PM मोदी को क्लीन चिट के खिलाफ याचिका पर SC में सुनवाई टली

इसी तरह 18 जुलाई को भिंड निवासी नीरज शर्मा ने पुलिस को बताया कि चार लोगों ने उसे घेर कर गोली मारी है। पुलिस ने इस मामले में भगवान, रामलखन, सुनील कांकर और कौशल कांकर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया, लेकिन पड़ताल में पता चला कि कोई गोली नहीं चली। पुलिस ने घायल से कड़ाई से पूछताछ की तो पूरा मामला खुल गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि झूठी रिपोर्ट लिखवाकर निर्दोष को फंसाने की कोशिश करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।
छेड़छाड़ के आरोपियों को भीड़ ने बुरी तरह पीटा, पुलिस देखती रही तमाशा

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:people shooting themself to take revenge from enemies