DA Image
25 अक्तूबर, 2020|11:02|IST

अगली स्टोरी

आरोप: चिदंबरम बोले, केंद्र सरकार और आतंकवादियों के अतिवादी कदमों के बीच फंसे कश्मीरी

पी चिदंबरम

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने आरोप लगाया कि केंद्र ने कश्मीर को लेकर अतिवादी रुख अख्तियार कर लिया है जिससे घाटी की समस्या और बढ़ गई है। केंद्र द्वारा विपक्षी दलों को चीन के साथ टकराव और अमरनाथ यात्रियों पर हमले के बाद जम्मू-कश्मीर की स्थिति के बारे में अवगत कराये जाने के दो दिन बाद उन्होंने यह बयान दिया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कश्मीर मुद्दा नासूर बन चुका है और घाटी के लोग केंद्र सरकार और आतंकवादियों के अतिवादी कदमों के बीच फंस गए हैं।

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि इससे जम्मू-कश्मीर के लोग और सूबे का भविष्य प्रभावित हो रहा है। चिदंबरम ने कहा, आतंकवादियों ने अतिवादी रुख अख्तियार किया है और उन्हें तुरंत खारिज किए जाने की जरूरत है। केंद्र सरकार ने अतिवादी कदम उठाया है, जिसने समस्या को बढ़ा दिया है। गौरतलब है कि विपक्षी दल पिछले साल सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से कश्मीर घाटी में अशांति और हिंसा के लिए केंद्र और पीडीपी-बीजेपी की राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराते रहे हैं।

सर्वदलीय बैठक: मोदी बोले,गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने पर होगी कार्रवाई

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:People of Kashmir are between two maximalist positions: Chidambaram