DA Image
29 अक्तूबर, 2020|2:05|IST

अगली स्टोरी

महबूबा ने किया तिरंगे का अपमान तो बोले रविशंकर प्रसाद, अब क्यों चुप है तथाकथित सेक्युलर लॉबी?

pdp chief mehbooba mufti and union minister ravishankar prasad  file pic

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की चीफ महबूबा मुफ्ती की तरफ से एक दिन पहले तिरंगे पर बयान देकर उसका अपमान करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। एक तरफ जहां लोगों की तरफ से प्रदर्शन किया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ महबूबा पर सियासी पलटवार कर उसे घेरने की कोशिश भी की जा रही है। बीजेपी ने महबूबा मुफ्ती के इस बयान के बहाने तथाकथित सेक्युलर पर निशाना साधा है।

बीजेपी के सीनियर नेता और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “कैसे महबूबा मुफ्ती ने राष्ट्रीय झंडे का अपमान किया है, इससे ज्यादा और कुछ अपमानजनक नहीं हो सकता है। जम्मू कश्मीर अखंड हिस्सा है। अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने संवैधानिक प्रक्रिया थी। हम उनकी टिप्पणी की आलोचना करते हैं, लेकिन क्यों तथाकथित सेक्युलर लॉबी राष्ट्र विरोधी टिप्पणी पर चुप बैठी है?”

ये भी पढ़ें: पीपल्स अलायंस के अध्यक्ष बने फारूक, बोले- यह राष्ट्रद्रोही जमात नहीं

तिरंगे पर क्या बोली थीं महबूबा?

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा है कि वो कश्मीर के अलावा कोई झंडा नहीं उठाएंगी। लंबे समय बाद मीडिया से बात करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि मैं जम्मू-कश्मीर के अलावा दूसरा कोई झंडा नहीं उठाऊंगी। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जिस वक्त हमारा ये झंडा वापस आएगा, हम उस झंडे को भी उठा लेंगे। मगर जब तक हमारा अपना झंडा वापस आ नहीं जाता है तब तक हम किसी और झंडे को हाथ में नहीं उठाएंगे।

वहीं, चुनाव के लड़ने के सवाल पर महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि उनकी पार्टी और हाल ही बने पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकर डिक्लेयरेशन साथ मिल कर निर्णय करेंगे कि केन्द्र शासित क्षेत्र में चुनाव लड़ना है अथवा नहीं। जम्मू कश्मीर की मुख्यधारा की पार्टियों ने पूर्ववर्ती राज्य का विशेष दर्जा बहाल कराने और इस मुद्दे पर सभी पक्षकारों से बातचीत के लिए 15 अक्टूबर को गुपकर एलायंस का गठन किया है। 

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी के 370 वाले बयान पर महबूबा बोलीं- इनके पास और कुछ नहीं

महबूबा के झंडे वाले बयान पर दिल्ली पुलिस से शिकायत

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के खिलाफ दिल्ली के एक वकील ने पुलिस को शिकायत दी है। उन्होंने महबूबा के बयान 'डकैतों ने हमारा झंडा छीना' को भड़काऊ और अपमानजनक बताते हुए शिकायत की है। हाल ही में नजरबंदी से आजाद हुईं महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को तिरंगे और जम्मू-कश्मीर के पूर्व के झंडे को लेकर बयानबाजी की।   

वकील विनीत जिंदल ने दिल्ली पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि मुफ्ती निर्वाचित भारत सरकार के खिलाफ भड़काऊ और अपमानजनक बयान दे रही हैं। जिंदल ने शुक्रवार को शिकायत में कहा, ''यह भड़काऊ बयान है जो समुदायों के बीच नफरत और अशांति फैलाने और चुनी हुई सरकार के खिलाफ युद्ध भड़काने के मकसद से दिया गया है, क्योंकि वह एक प्रभावशाली और सार्वजनिक व्यक्तित्व हैं।'

ये भी पढ़ें: J&K: फारूक का मु्फ्ती संग गठबंधन का ऐलान, बोले- मिलें पुराने अधिकार

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:PDP Chief Mehbooba Mufti insulted tricolor Ravi Shankar Prasad asks why is the so-called secular lobby silent now