DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  नहीं सुधरेगा पाकिस्तान? LoC पर घुसपैठ में हो रहे नाकाम तो कश्मीर के युवाओं को आतंकवादी बनाने की कोशिश

देशनहीं सुधरेगा पाकिस्तान? LoC पर घुसपैठ में हो रहे नाकाम तो कश्मीर के युवाओं को आतंकवादी बनाने की कोशिश

विशेष संवाददाता, हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Published By: Himanshu Jha
Tue, 09 Mar 2021 08:05 PM
नहीं सुधरेगा पाकिस्तान? LoC पर घुसपैठ में हो रहे नाकाम तो कश्मीर के युवाओं को आतंकवादी बनाने की कोशिश

जम्मू-कश्मीर में पिछले चार सालों की तुलना में लगातार सीमा पार से आतंकी घुसपैठ में गिरावट आई है। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह सुरक्षा बलों की पाकिस्तान सीमा पर की जा रही कड़ी निगरानी है। हालांकि घुसपैठ पर नकेल के बावजूद स्थानीय स्तर पर आतंकियों की भर्ती का प्रयास लगातार जारी है। हाल में करीब 15 स्थानीय युवाओं के आतंकी गुटों के संपर्क में आने की खबर पर स्थानीय एजेंसिया चौकन्ना हैं।

सुरक्षा एजेंसियों की एक आंतरिक रिपोर्ट में घुसपैठ में आई गिरावट का जिक्र किया गया है। पिछले साल 2020 में 99 बार घुसपैठ की कोशिश हुई जिसमें सिर्फ 51 आतंकी सीमापार से जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ कर सके। वहीं 2019 में 216 बार पाकिस्तान की तरफ से आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश की गई जिसमें 138 आतंकियों की घुसपैठ की आशंका जताई गई थी।

साल 2018 में 323 बार पाकिस्तान समर्थित आतंकियों की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की गई। सुरक्षाबलों को आशंका है कि 143 आतंकी 2018 में घुसे थे। साल 2017 में सबसे ज्यादा 406 बार पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई की शह पर आतंकी घुसपैठ की कोशिश हुई। इसमें 123 आतंकी घुसपैठ में सफलता पा सके हालांकि बाद में कई आतंकी ढेर कर दिए गए। साल 2016 में 364 बार आतंकियों की घुसपैठ सीमापार पाकिस्तान की तरफ से हुई जिसमें सुरक्षा बलों की रिपोर्ट के मुताबिक 112 आतंकी घुसपैठ में कामयाब हो सके।

संबंधित खबरें