DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  फिर सामने आए पाक के नापाक इरादे, आतंकी संगठनों में नई जान डालने की फिराक में ISI

देशफिर सामने आए पाक के नापाक इरादे, आतंकी संगठनों में नई जान डालने की फिराक में ISI

पंकज कुमार पांडेय,नई दिल्लीPublished By: Shankar Pandit
Sun, 14 Feb 2021 08:54 AM
फिर सामने आए पाक के नापाक इरादे, आतंकी संगठनों में नई जान डालने की फिराक में ISI

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने का मिशन बार-बार फेल होने के बाद पाकिस्तानी आईएसआई यहां आतंकी संगठनों को फंडिंग करके नई जान देने की कवायद में जुटी है। आईएसआई की साजिश खुफिया एजेंसियों के रडार पर है। जैश, लश्कर, हिजबुल जैसे संगठनों के खिलाफ जमीनी कार्रवाई के अलावा उनके वित्तीय स्रोत पर प्रहार के लिए कई एजेंसिया मिलकर काम कर रही हैं। 

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जम्मू-कश्मीर में दोबारा आतंक फैलाने की साजिश में जुटे हुए हैं। इसके लिए उनको आईएसआई से मदद मिल रही है। खुफिया एजेंसियों ने केंद्रीय एजेंसियो को बताया है कि जम्मू-कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी संगठन लश्कर, जैश, हिजबुल मुजाहिदीन को भारी फंड मुहैया कराने में जुटा हुआ है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के जरिए दुबई और तुर्की के रास्ते राशि मुहैया कराई जा रही है। 

सूत्रों के मुताबिक जम्मू कश्मीर में अलगाववाद पार्ट-2 शुरू करने की साजिश भी रची जा रही है। विदेशों से आई चैरिटी, स्वास्थ्य और शिक्षा के नाम पर दुबई, तुर्की और दूसरे रास्तों से फंडिंग का इंतजाम किया जा रहा है। जमात-ए-इस्लामी फंडिंग के जरिए कश्मीर में कट्टरपंथी साजिश को भी अंजाम देना चाहती है, जिससे बच्चों और युवाओं के दिमाग मे आतंक का जहर भरा जा सके।

जमात-ए-इस्लामी ने नए अलगाववादी गुट तैयार करने और आतंकियों की नई भर्ती के लिए भी योजना बनाई है। हालांकि एजेंसियो की सक्रियता के चलते ज्यादातर प्लान विफल हो रहे हैं। लेकिन सुरक्षा व खुफिया एजेंसियां लगातार पाकिस्तान की जमीन से हो रही साजिश और आतंकी व कट्टरपंथी संगठनों की हरकत पर निगाह जमाए हुए हैं।

संबंधित खबरें