DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  फिर खारिज हुई पी चिदंबरम की जमानत याचिका तो बोले- 'लगता है जैसे मैं कोई रंगा बिल्ला हूं'
देश

फिर खारिज हुई पी चिदंबरम की जमानत याचिका तो बोले- 'लगता है जैसे मैं कोई रंगा बिल्ला हूं'

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mrinal
Wed, 27 Nov 2019 04:13 PM
फिर खारिज हुई पी चिदंबरम की जमानत याचिका तो बोले- 'लगता है जैसे मैं कोई रंगा बिल्ला हूं'

आईएनएक्स मी़डिया मामले में हिरासत में 98 दिन बिता चुके  पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के लिए स्पेशल कोर्ट ने न्यायिक हिरासत 11 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दी है। चिदंबरम ने कोर्ट द्वारा ईडी के तर्कों को खारिज किए जाने के बावजूद उनकी जमानत अर्जी खारिज होने पर नाराजगी जाहिर की। चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की पीठ से कहा कि हाई कोर्ट ने सबूतों से छेड़छाड़ और मेरे भाग निकलने के डर से मेरी जमानत याचिक खारिज कर दी है। वहीं उनके वकीन कपिल सिब्बल ने कहबा कि कोर्ट ने आरोप गंभीर होने के चलते चिदंबरम की बेल याचिका खारिज की है। 

सिब्बल ने पीठ का नेतृत्व कर रहे जस्टिस आर बानूमति से कहा कि अगर अदालत की गंभीर आरोप वाली दलील स्वीकार हो जाती है तो हमें कभी जमानत नहीं मिलेगी। कपिल सिब्बल ने यह भी कहा कि चिदंबरम को जेल में रखना उच्च न्यायालय के तनाव की ओर इशारा करता है, इससे गलत संदेश जाता है। चिदंबरम के लिए बहस करते हुए सिब्बल ने कहा कि-“ऐसा लगता है जैसे मैं कुछ रंगा बिल्ला हूं। अगर मुझे जमानत पर रिहा नहीं किया जाता है, तो यह इस देश को एक गलत संदेश देगा।” बता दें कि रंगा और बिल्ला बॉम्बे को दो खतरनाक अपराधी थे जो आर्थर रोड जेल से रिहा होने के तुरंत बाद दिल्ली आ गए थे। उन्होंने अगस्त 1978 में दो किशोरों का अपहरण कर उन्हें बर्बरता से मार डाला था। 

उधर हिरासत में रहते हुए भी चिदंबरम की नजर महाराष्ट्र की उथल पुथल पर बराबर बनी हुई है। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन को नसीहत दी है। चिदंबरम ने ट्वीट में लिखा है कि शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन सरकार को हार्दिक बधाई। कृपया पार्टी के निजी हितों को दूर रखकर किसान कल्याण, निवेश, रोजगार, सामाजिक न्याय और महिला एंव बाल कल्याण के सामान्य हितों को लागू करने के लिए मिलकर काम करें।

चिदंबरम ने एक अन्य ट्वीट में महाराष्ट्र के राज्यपाल का जिक्र करते हुए लिखा है कि क्या सुबह नौ बजे तक का इंतजार नहीं किया जा सकता था? इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को तिहाड़ जेल पहुंच कर आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से मुलाकात की थी। न्यूज एजेंसी भाषा ने सूत्रों के हवाले से बताया कि दोनों ने करीब 45 मिनट मुलाकात में पूर्व वित्त मंत्री के प्रति एकजुटता प्रकट की। 

संबंधित खबरें