DA Image
27 नवंबर, 2020|9:07|IST

अगली स्टोरी

चिदंबरम का निशाना, BJP सरकार की उपेक्षा के कारण मनरेगा का हुआ बुरा हाल

पी चिदंबरम

केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार पर मनरेगा (MNREGA) की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने सोमवार को कहा कि इस रोजगार कार्यक्रम ने भुखमरी से निपटने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायी थी, लेकिन अब उसकी भी स्थिति खराब है। 
    
भाषा के अनुसार, पूर्व वित्त मंत्री ने दावा किया कि राज्यों ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के लिए आवंटित धन को खर्च कर दिया है और चालू वित्त वर्ष के शेष तीन महीनों के लिए केवल 331 करोड़ रुपये की राशि ही बची हुई है।

ये भी पढ़ें: संसद LIVE: राफेल पर रक्षा मंत्री के जवाब से कांग्रेस संतुष्ट नहीं, कहा- होनी चाहिए JPC जांच
     
उन्होंने बताया कि इस बात का कोई संकेत नहीं दिख रहा है कि केंद्र मनरेगा के लिए अब और अधिक धन मुहैया कराएगा। उन्होंने अपने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि एक अन्य चिंताजनक बात यह है कि मनरेगा अब मांग के आधार पर संचालित होने वाला कार्यक्रम नहीं रहा, बल्कि इसमें अब धन की उपलब्धता के आधार पर ही श्रमिकों को काम दिया जाता है।

उन्होंने कहा, 'धन उपलब्ध नहीं होने के कारण कई पंचायतों में काम पूरी तरह से रुक गया है।' कृषि संबंधी कीमतें कम हैं। नौकरी के अवसर बहुत कम हैं। एक चीज जो भुखमरी से निपटने में मददगार थी, वह थी मनरेगा और इस कार्यक्रम की हालत भी अब खराब है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:p chidambaram targets central government over mnrega issue