DA Image
10 अप्रैल, 2020|2:50|IST

अगली स्टोरी

नागरिकता संशोधन कानून पर बोले पी चिदंबरम भाजपा और भारत के लोगों के बीच जंग है ये

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा कि ये मुस्लिम और केंद्र सरकार के बीच की जंग नहीं है बल्कि ये भारत के लोगों और भारतीय जनता पार्टी के बीच की जंग है। हमें अर्थव्यवस्था के बारे में बात करनी चाहिए लेकिन हम सीएए और एनआरसी के बारे में बात कर रहें हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर कटाक्ष करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि वह देश की यात्रा पर आने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से पूछें कि क्या असम से 19 लाख लोगों को प्रत्यर्पित करना संभव है। चिंदबरम ने रविवार (23 फरवरी) चेन्नई में सीएए विरोधी एक कार्यक्रम में कहा, ''अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने यहां आने से भी पहले कहा है कि वह सीएए पर सवाल पूछेंगे। यदि छह से 10 लाख लोग प्रभावित होने वाले हैं, तो क्या यात्रा पर आने वाले नेता प्रश्न किए बिना जा पाएंगे?"

उन्होंने कहा कि अधिकतर देशों ने इस पर सवाल उठाने आरंभ कर दिए हैं। चिदंबरम ने आरोप लगाया कि सीएए असम में सात लाख मुसलमानों को बाहर भेजने और 12 लाख हिंदुओं को रखने का ''एक उपकरण" है। उन्होंने कहा कि अन्य देशों ने अवैध प्रवासियों को रोका है, लेकिन किसी ने भी 19 लाख लोगों को प्रत्यर्पित नहीं किया।

उन्होंने कहा, ''किस देश ने 19 लाख लोगों को प्रत्यर्पित किया है? यदि नरेंद्र मोदी को कोई शक है तो वह ट्रम्प से सवाल पूछ सकते हैं और वह जवाब देंगे।" इस कार्यक्रम में जब चिंदबरम सभा को संबोधित कर रहे थे तभी एक बड़ा फ्लैक्स बोर्ड मंच पर गिर गया। बोर्ड मंच पर बैठे लोगों के ठीक पीछे लटका हुआ था। इस दौरान किसी को चोट नहीं आई।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:P Chidambaram said on the Citizenship Amendment Act that this is a war between the BJP and the people of India