DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विपक्ष चुनाव जीतता है तो EVM अच्छी होती है और हारने पर EVM खराब हो जाती है: जावड़ेकर

Prakash Javadekar (Photo:BJP Rajasthan/Twitter)

केन्द्रीय मंत्री और भाजपा के राजस्थान चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को दावा किया कि लोकसभा चुनाव के पहले तीन चरण के मतदान के बाद भाजपा एवं राजग ऐतिहासिक जीत की ओर बढ़ गये हैं। उन्होंने भरोसा जताया कि भाजपा राज्य की सभी सीटों पर जीत दर्ज करेगी। उल्लेखनीय है कि देश में लोकसभा चुनाव में तीसरे चरण का मतदान मंगलवार को हुआ।

जावड़ेकर ने यहां भाजपा मुख्यालय में संवाददाताओं में कहा, ''लोकसभा के तीन चरणों में 300 सीटों पर चुनाव हुआ है और भाजपा को अधिक विश्वास हो चला है कि हम ऐतिहासिक विजय की ओर चले हैं और भाजपा राजग मिलकर ऐतिहासिक जीत दर्ज करेंगे।"

उन्होंने कहा, ''पहली बार भारत यह अनुभव कर रहा है कि सत्ताधारी पार्टी के पक्ष में एक लहर है। हमेशा एक 'एंटी इनकंबेसी' की बात सुनते रहे हैं, लेकिन पहली बार है कि 'प्रो इंनकंबेसी' की बात है।" उन्होंने कहा कि लोग मजबूत सरकार, देश की सुरक्षा, गरीबों को सशक्त बनाने और देश की उन्नति के लिये मतदान कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ''ये सब मोदी सरकार की उपलब्धियां हैं जो 'प्रो इंकम्बेंसी' वोट में परिलक्षित हो रही हैं।"

पहले तीन चरण में कम मतदान संबंधी सवाल पर जावड़ेकर ने कहा, ''एक बात सामने आ रही है कि अनेक राज्यों में पांच से छह प्रतिशत मतदान कम हुआ है। हम भी विश्लेषण कर रहे थे कि यह वोट किसका कम हुआ और हमारा नतीजा यह है कि यह वोट विपक्ष के कम हुए है। विपक्ष की नकारात्मक राजनीति और नकारा सोच इसके खिलाफ जनता ने वोट दिया है और भाजपा का नेतृत्व के लिये वोट दिया है।"

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ''.....इसलिये विपक्ष ने प्रथम चरण के मतदान के बाद 21 पार्टियों ने मिलकर दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन किया और ईवीएम मशीनों का बहाना अभी से बनाना शुरू किया। कल मुंबई में संवाददाता सम्मेलन में चंद्रबाबू नायडू, शरद पंवार, सुशील कुमार शिंदे ने भी ईवीएम का ही राग अलापा।"

मोदी का ममता पर तंज, 'स्टीकर दीदी' केंद्र की योजनाओं पर अपनी सरकार का लेबल चस्पा कर देती हैं

ईवीएम को लेकर विपक्ष के आरोपों पर उन्होंने चुटकी ली, ''जब विपक्ष जीतता है तो ईवीएम अच्छी होती है और जब वह चुनाव हार रहे होते है ईवीएम खराब हो जाती है। वरना, 2004 और 2009 में इन्ही ईवीएम मशीनों के जरिये संप्रग सरकार ने जीत दर्ज की थी। हाल ही में राजस्थान, मध्यप्रदेश, और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने इन्ही ईवीएम मशीनों के जरिये जीत हांसिल की है। केरल में कम्युनिस्ट सत्ता में है इन्ही ईवीएम मशीनों के कारण, पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सत्ता में है इन्हीं ईवीएम मशीनों के कारण, तेलंगाना में केसीआर, तमिलनाडू में अन्नाद्रमुक और उड़ीसा में नवीन पटनायक इन्हीं मशीनों के जरिये राज कर रहे हैं।"

उन्होंने कहा, 'यह वास्तव में विपक्ष की हताशा है। उनके पास कोई नेतृत्व नहीं है।' उन्होंने कहा कि राजस्थान की सभी 25 सीटों पर भाजपा एवं उसके सहयोगी दल रालोप विजयी रहेंगे। भाजपा ने राज्य की नागौर सीट रालोप को दी है। जावड़ेकर ने कहा, 'कांग्रेस पार्टी प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ तो रोज बोलती है लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ एक लब्ज भी नहीं बोलती है ... मुझे कभी कभी आश्चर्य होता है कि हम भारत माता की जय बोलते हैं तो उनको उस पर भी आपत्ति होती है।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Oppn parties raise concern over EVMs only when they lose Says Prakash Javadekar