ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशसिर्फ इसीलिए कि इंदिरा गांधी कांग्रेसी हैं, आप उनसे क्रेडिट नहीं ले सकते: मदर ऑफ इंडिया वाले बयान के बाद बोले सुरेश गोपी

सिर्फ इसीलिए कि इंदिरा गांधी कांग्रेसी हैं, आप उनसे क्रेडिट नहीं ले सकते: मदर ऑफ इंडिया वाले बयान के बाद बोले सुरेश गोपी

केरल में बीजेपी को एकमात्र सीट पर जीत दर्ज करवाने वाले सुरेश गोपी अपने बयानों की वजह से चर्चा में हैं। उन्होंने कहा है कि सिर्फ इसीलिए कि इंदिरा गांधी कांग्रेसी हैं, आप उनसे क्रेडिट नहीं ले सकते हैं।

सिर्फ इसीलिए कि इंदिरा गांधी कांग्रेसी हैं, आप उनसे क्रेडिट नहीं ले सकते: मदर ऑफ इंडिया वाले बयान के बाद बोले सुरेश गोपी
Jagritiलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 16 Jun 2024 02:48 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय मंत्री सुरेश गोपी पिछले कुछ दिनों से अपने बयानों की वजह से चर्चा में हैं। पिछले दिनों पहले प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मदर ऑफ इंडिया कह सुर्खियों में आने वाले सुरेश गोपी ने अब ताजा बयान जारी कर कहा है कि उनका बीजेपी में आना एक भावनात्मक फैसला था। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "सिर्फ़ इसलिए कि मेरे पिता का परिवार कांग्रेसी परिवार था, मेरी माँ के परिवार ने केरल में जनसंघ के गठन में काम किया... मैं एसएफआई में था। लेकिन मेरे बदलाव के पीछे की वजह राजनीतिक नहीं थी। यह भावनात्मक था। मैं अपना जीवन भावनात्मक रूप से भी जीऊँगा। तभी मैं एक अच्छा पिता, अच्छा बेटा और एक अच्छा पति बन पाऊंगा। उन्होंने आगे कहा कि उन्हें सनातन धर्म के सभी मूल्यवान गुणों का पालन करना है। 

इंदिरा गांधी पर दिए गए अपने बयान पर सुरेश गोपी ने कहा कि सिर्फ़ इसलिए कि इंदिरा गांधी कांग्रेसी हैं, और वह उन्हें श्रेय देने से पीछे नहीं हट सकते। उन्होंने कहा, “मैं उन्हें स्वतंत्रता के बाद भारत का असली निर्माता कहता हूँ।” इससे पहले सुरेश गोपी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को मदर ऑफ इंडिया कहा था और मार्क्सवादी नेता ई के नयनार को अपना राजनीतिक गुरु बताया था। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री के करुणाकरण को श्रद्धांजलि भी अर्पित की थी।

सुरेश गोपी ने लोकसभा चुनाव में बीजेपी की ओर से चुनाव लड़ते हुए केरल के त्रिशूर लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की थी। इसके साथ ही उन्होंने केरल में बीजेपी को पहली सीट दिलाई है। उन्होंने के करुणाकरण के बेटे के मुरलीधरन को हराया था।