ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशबेटे को संस्कार नहीं दे सकतीं तो... राहुल गांधी के बाद अब सोनिया को स्मृति इरानी की सलाह

बेटे को संस्कार नहीं दे सकतीं तो... राहुल गांधी के बाद अब सोनिया को स्मृति इरानी की सलाह

स्मृति इरानी ने राहुल गांधी के बयान को लेकर सीधे सोनिया गांधी पर ही हमला बोलते हुए कहा कि यदि आप बेटे को सही संस्कार नहीं दे सकतीं तो उसे बोलने से ही रोकें। उनके मन में यूपी के लिए विष भरा है।

बेटे को संस्कार नहीं दे सकतीं तो... राहुल गांधी के बाद अब सोनिया को स्मृति इरानी की सलाह
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली अमेठीWed, 21 Feb 2024 01:37 PM
ऐप पर पढ़ें

राहुल गांधी और स्मृति इरानी के बीच सियासी प्रतिद्वंद्विता जगजाहिर है, लेकिन पिछले दो दिनों में इसका नया राउंड देखने को मिला है। भारत जोड़ो न्याय यात्रा लेकर राहुल गांधी अमेठी और रायबरेली पहुचे हैं तो वहीं स्मृति इरानी भी अपने संसदीय क्षेत्र में हैं। इस बीच राहुल गांधी का एक बयान सामने आया है, जिसमें उन्होंने वाराणसी में युवाओं के शराब पीकर सड़कों पर पड़े रहने और रातों को डांस करने की बात कही है। इस बयान को लेकर अब स्मृति इरानी ने उन्हें घेरा है और यूपी के युवाओं और पुण्य स्थानों के अपमान का आरोप लगाया है। यही नहीं उन्होंने सोनिया गांधी पर ही हमला बोलते हुए कहा कि यदि आप बेटे को सही संस्कार नहीं दे सकतीं तो उसे बोलने से ही रोकें। 

दरअसल राहुल गांधी ने कहा था, 'मैं वाराणसी गया तो मैंने देखा कि रात को बाजा बज रहा है और वहां शराब पिए और सड़क पर लेटते हुए यूपी का भविष्य पड़ा है। वहां यूपी का भविष्य शराब पिए नाच रहा है। दूसरी तरफ राम मंदिर में आपको नरेंद्र मोदी दिखेगा, अंबानी दिखेगा, अडानी दिखेगा। हिन्दुस्तान के अरबपति दिखेंगे, लेकिन कोई पिछड़ा, दलित या आदिवासी नहीं दिखेगा। वह आपकी जगह नहीं है। आपकी जगह सड़क पर भीख मांगने की है और पोस्टर दिखाने का है। उनका काम पैसे गिनने का है।'

इस पर जवाब देते हुए स्मृति इरानी ने कहा कि राहुल गांधी के मन में उत्तर प्रदेश के लिए कितना विष भरा है। यह उनकी इस अभद्र टिप्पणी से प्रतीत होता है। राहुल गांधी ने वायनाड में जाकर भी यूपी के लोगों पर अभद्र टिप्पणी की। उन्होंने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के निमंत्रण को ठुकराया था और आज काशी के युवाओं पर अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं।  मैं तो कहूंगी कि कांग्रेस का भविष्य अंधकार में है, लेकिन यूपी का भविष्य प्रगति की ओर है। कल ही यहां इन्वेस्टमेंट समिट हुआ है। मेरी सोनिया गांधी को हिदायत है कि यदि आप बेटे को अच्छे संस्कार नहीं दे सकती हैं तो फिर वह हमारे पुण्य स्थलों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियां करना बंद करें। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें