now Army personnel will be unable to walk on land mines - सहूलियत: बारूदी सुरंगों पर बेखौफ चल सकेंगे सेना के जवान DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सहूलियत: बारूदी सुरंगों पर बेखौफ चल सकेंगे सेना के जवान

Salute to the brave soldiers of the indian army

सेना ने जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर तैनात सैनिकों के लिए बारूदी सुरंग रोधी खास तरह के जूते खरीदे हैं। थल सेना के जम्मू स्थित 16 वीं कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (जीओसी), लेफ्टिनेंट जनरल परमजीत सिंह ने मंगलवार को एक साक्षत्कार में यह जानकारी दी। 

जीओसी सिंह ने कहा, घुसपैठ रोधी कोशिश के दौरान सैनिकों को अग्रिम इलाकों में नियंत्रण स्थापित करना होता है। यहां तक कि आतंकियों और विध्वंसकारी तत्वों का पीछा भी करना पड़ता है। उन्होंने कहा,हमने इन अभियानों को बढ़ावा देने के साथ- साथ अपने सैनिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विशेष कोष से बारूदी सुरंग रोधी जूते और गहराई तक तलाशी करने वाले मेटल डिटेक्टर जैसे उपकरण खरीदे हैं।
    
लेफ्टिनेंट जनरल सिंह ने कहा, एलओसी पर 16 वीं कोर के तहत आने वाले अग्रिम इलाकों (करीब 250 किमी तक उबड़-खाबड़ और घने वन वाले क्षेत्र) में बारूदी सुरंगों से खतरा है। लेकिन सुरक्षा एहतियात सहित हर तरह की तैयारियों के जरिए अभियान चलाए जा रहे हैं। 

बारूदी सुंरगों से बना रहता खतरा 
अधिकारी ने कहा, कुछ बारूदी सुरंगें घुसपैठ रोधी उपायों के तहत बिछाई गई थीं। लेकिन बारिश और बर्फबारी के चलते वे अपने स्थान से खिसक गई। इससे कभी-कभी दुघर्टनाएं हो जाती हैं। उन्होंने घुसपैठ रोधी अवरोध प्रणाली के पास बारूदी सुरंगों की सक्रियता और इसके चलते 28 अक्तूबर को एक लेफ्टिनेंट कर्नल तथा एक जवान के घायल हो जाने से जुड़ी घटनाओं के बारे में एक सवाल के जवाब में यह बात कही।
 

सर्दियों में घुसपैठ बढ़ने की आशंका 
 सेना का मानना है कि सर्दियों के मौसम में बर्फबारी के बाद भी गैर पारंपरिक मार्गों और इलाकों से आतंकी घुसपैठ की कोशिश करेंगे। जीओसी सिंह ने कहा, हम इन चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं। आकस्मिक योजनाएं बनाई गई हैं और समन्वय किया गया है। जबकि कुछ और कदम उठाए जा रहे हैं। पुलिस और नागरिक प्रशासन गंभीरतापूर्वक निगरानी कर रहे हैं।

सीमा पर कई स्तरीय सुरक्षा 
अधिकारी ने कहा कि घुसपैठ रोधी मजबूत व्यवस्था की गई है। सैनिकों को नाइट विजन उपकरण जैसे अत्याधुनिक उपकरणों से लैस किया गया है। उन्होंने कहा कि सेना और अन्य सुरक्षा एजेंसियों को कई पंक्तियों में तैनात किया गया है। यदि घुसपैठिये पहली पंक्ति को पार भी कर लेंगे तो भी वे आगे बढ़ने पर घिर जाएंगे।

Flipkart के ग्रुप सीईओ बिन्नी बंसल ने दिया इस्तीफा, मिसकंडक्ट का आरोप
ALP & Technicians Result:दोबारा जारी होगे एएलपी, टेक्नीशियन्स के नतीजे

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:now Army personnel will be unable to walk on land mines