DA Image
25 नवंबर, 2020|11:51|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली नहीं बल्कि असम है महिलाओं के लिए सबसे असुुरक्षित प्रदेश: एनसीआरबी

rape victim  file photo

नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो (NCRB)के साल 2018 के आंकड़ों के अनुसार लगातार दूसरे साल असम महिलाओं के विरुद्ध अपराध में पहले स्थान पर रहा। असम में साल 2018 में महिलाओं ते विरुद्ध अपराध की दर 166 है। ये राष्ट्र दर 58.8 से कहीं ज्यादा है। अब तक महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित माना जाता रहा दिल्ली इस सूची में 149.6 की दर से साथ दूसरे जबकि 107.5 की दर के साथ हरियाणा तीसरे नंबर पर है। 

क्राइम की ये दर प्रति एक लाख की जसंख्या के आधार पर निकाली गई है। साल 2018 में महिलाओं के विरुद्ध कुल 27728 अपराध दर्ज हुए (साल 2017 में ये आंकड़ा 23082) जो कि सभी प्रकार के अपराधों का 7.3 प्रतिशत है। 

इस स्थिति पर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि ये आंकड़े महिलाओं को लेकर असम की बिलकुल अच्छी तस्वीर पेश नहीं करते। लेकिन  हमें ये ध्यान रखना चाहिए कि ये आंकड़ा उन केसों के आधार पर है जो दर्ज हुए। साल 2017 में असम में महिलाओं के खिलाफ हुए अपराध की दर 143.3 थी जबकि राष्ट्रीय आंकड़ा 57.9 है। असम में बलात्कार / सामूहिक बलात्कार और हत्या के 66 मामलों को भी दर्ज किया गया है। 2017 में, असम का आंकड़ा 27 था, जो 64 मामलों के साथ उत्तर प्रदेश के बाद दूसरा था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:not Delhi but Assam is the most unsafe state for women