Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशभारत में अब तक ओमिक्रॉन के एक भी मामले नहीं; केंद्र का एक्शन प्लान तैयार, राज्यों को भी किया अलर्ट

भारत में अब तक ओमिक्रॉन के एक भी मामले नहीं; केंद्र का एक्शन प्लान तैयार, राज्यों को भी किया अलर्ट

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Himanshu Jha
Tue, 30 Nov 2021 07:25 PM
भारत में अब तक ओमिक्रॉन के एक भी मामले नहीं; केंद्र का एक्शन प्लान तैयार, राज्यों को भी किया अलर्ट

इस खबर को सुनें

केंद्र सरकार ने कुछ देशों में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रसार को देखते हुए राष्ट्रव्यापी कोविड -19 रोकथाम उपायों को 31 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दिया है। साथ ही राज्यों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी 25 नवंबर की सलाह का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है। इसमें विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों की कठोर जांच और परीक्षण की सिफारिश की गई है।

भल्ला ने यह भी कहा कि भारतीय SARS-CoV-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) के अनुसार अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के संपर्क में आमने वाले लोगों की भी बारीकी से ट्रैक कर उनकी टेस्टिंग की जानी चाहिए। यात्रियों के सैंपल को जीनोम सिक्वेंसिंग प्रयोगशालाओं में तुरंत भेजा जाना चाहिए।

भारत में अभी तक कोई मामला नहीं
स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को राज्यसभा को बताया कि भारत में ओमिक्रॉन का कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन सरकार ने यह सुनिश्चित करने के उपाय किए हैं कि यह देश में न पहुंचे। मंत्री ने कहा, "ओमिक्रॉन संस्करण अब 14 देशों में पाया गया है। यहां इसका अध्ययन किया जा रहा है, हालांकि भारत में इसकी रिपोर्ट नहीं की गई है।"

उन्होंने कहा कि केंद्र ने विश्व स्तर पर मामले देखने के बाद एक एडवाइजरी जारी की है और बंदरगाहों पर कड़ी नजर रख रही है। उन्होंने कहा कि संदिग्ध मामलों की जीनोम सिक्वेंसिंग किया जा रहा है। मंत्री ने कहा, "हमने महामारी के दौरान बहुत कुछ सीखा है। हमारे पास जांच करने के लिए संसाधन और प्रयोगशालाएं हैं।"

तीसरी लहर के लिए तैयारी
इस बीच, राज्यसभा में एक जवाब में, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ भारती प्रवीण पवार ने कहा कि भारत सरकार देश और विश्व स्तर पर कोविड -19 स्थिति पर कड़ी नजर रखे हुए है। जैसा कि राज्यों द्वारा बताया गया है, पिछले कुछ महीनों में मामलों में गिरावट का रुझान देखा गया है। 

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय कोविड-19 के विभिन्न पहलुओं के प्रबंधन के लिए तकनीकी मार्गदर्शन देना जारी रखा है। अब तक, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 150 से अधिक दिशानिर्देश/सलाह/एसओपी/योजनाएं प्रदान की जा चुकी हैं। सरकार ने स्पष्ट किया कि उभरते वैज्ञानिक प्रमाणों के साथ कोविड-19 के नैदानिक ​​प्रबंधन पर दिशा-निर्देशों को अपडेट किया जाना जारी है। वयस्कों के लिए उपचार प्रोटोकॉल आखिरी बार 24 मई, 2021 को अपडेट किया गया था और इसे व्यापक रूप से प्रसारित किया गया है।  बच्चों में कोविड-19 के प्रबंधन के लिए दिशा-निर्देश 18 जून, 2021 को जारी किए गए थे।

epaper

संबंधित खबरें