DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  दिल्ली हिंसा : अजित डोभाल ने किया हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा, अबतक 27 की हो चुकी है मौत

देशदिल्ली हिंसा : अजित डोभाल ने किया हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा, अबतक 27 की हो चुकी है मौत

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Shankar
Wed, 26 Feb 2020 08:55 PM
delhi Clashes photo
1 / 2delhi Clashes photo
PM Narendra Modi. (File Photo)
2 / 2PM Narendra Modi. (File Photo)

 नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने वाले और विरोध करने वालों ने नॉर्थ ईस्ट दिल्ली को हिंसा की आग में झोंक दिया। नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों में बीते तीन दिनों से जारी हिंसा में अब तक 27 लोगों की जान चली गई है, जिसमें एक पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक, जीटीबी अस्पताल में 25, जबकि एलएनजेपी में 2 की मौत हुई है। हिसा में मरनेवालों को 2 लाख रुपए और गंभीर तौर पर जख्मी लोगों के लिए 50 हजार रुपए के मुआवजे का ऐलान किया गया है।  

वहीं रविवार से जारी हिंसा में अब तक करीब 250 से अधिक लोग घायल हो गए हैं, जिनमें करीब 56 से अधिक पुलिस के जवान हैं। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली यानी उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और चांदबाग में रविवार, सोमवार और मंगलवार को लगातार हिंसा हुई, जिसकी वजह से प्रशासन ने धारा 144 लगा दिया है और पुलिस की भारी तैनाती की है। आज इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में अलग-अलग याचिकाओं पर सुनवाई है। तो चलिए जानते हैं इस मामले से जुड़े सारे अपडेट्स...


North East Delhi Violence live Updates:

- दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 24 तक पहुंच गई है। इनमें से 22 की मौत जीटीबी अस्पताल में हुई और दो की मौत एलएनजेपी में हुई है।

- राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल आज दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहे हैं। इस दौरान वह लगातार स्थानीय लोगों से बातचीत कर रहे हैं।  

- इस मामले पर दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई जारी है। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने की सलाह दी है। कोर्ट ने कहा कि इससे लोगों में विश्वास पैदा होगा।

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट कर कहा कि- दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में व्याप्त स्थिति पर व्यापक समीक्षा की थी। पुलिस और अन्य एजेंसियां ​​शांति और सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिए जमीन पर काम कर रही हैं। शांति और सद्भाव हमारे लोकाचार के लिए केंद्रीय हैं। मैं दिल्ली की अपनी बहनों और भाइयों से हर समय शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील करता हूं। यह महत्वपूर्ण है कि शांत हो और सामान्य स्थिति जल्द से जल्द बहाल हो। 

-दिल्ली हिंसा पर प्रियंका गांधी ने कहा कि मैं दिल्ली के लोगों से अपील करती हूं कि वे हिंसा न करें, सावधानी बरतें और शांति बनाए रखें। हमने उत्तर प्रदेश में अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि अगर यहां हिंसा फैलती है तो वे शांति बनाए रखें।

- दिल्ली हिंसा को लेकर सोनिया गांधी ने गृह मंत्री अमित शाह का इस्तीफा मांगा है। साथ ही इस घटना के लिए केंद्र सरकार के साथ-साथ दिल्ली सरकार को भी कसूरवार ठहराया है।

-दिल्ली पुलिस ने सीलमपुर इलाके में घोषणा की: एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई है। यहां कोई भी व्यक्ति नजर न आए। अभी तुम्हें प्यार से बताया जा रहा है, फिर सख्ती से बताया जाएगा। दूकानें बंद कर दो यहां।

-दिल्ली: सीआरपीएफ, सशस्त्र सीमा बल, सीआईएसएफ और पुलिस के जवानों ने गोकुलपुरी में फ्लैग मार्च किया।

- कांग्रेस नेता हिंसा प्रभावित दिल्ली में हालात सामान्य करने और शांति की मांग के लिए राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेंगे: पार्टी सूत्र

-दिल्ली: दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) एसएन श्रीवास्तव, स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस (क्राइम) सतीष गोलचा ने जाफराबाद इलाके का जायजा लिया। बता दें कि कल ही एसएन श्रीवास्तव को स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस नियुक्त किया गया था।

- उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर भड़की साम्प्रदायिक हिंसा में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को 20 पर पहुंच गई है। जीटीबी अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

- नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा मामले में हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है और सीनियर अधिकारियों को कोर्ट में उपस्थित रहने को कहा है। 

- मौजपुर में हालात सामान्य पर माहौल तनावपूर्ण। पुलिस पहचान पत्र देखकर लोगों को लाल बत्ती क्रास करने दे रहे हैं।

- करावल नगर रोड, चांद बाग पुलिया पर अभी सब शांत है। सड़क पर मलबा पड़ा है। लोग गलियों से बाइक से गुजर रहे हैं। कॉलोनियों में लोग दुकानों से सामान लेते दिखे। मंगलवार रात भर कुछ लोग चौराहो पर बैठकर ध्यान रखते रहे।

-बीते दो दिनों दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर गुरु तेग बहादुर अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार मरने वालों की संख्या 18 हो चुकी है।

-केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शहादरा के घायल डीसीपी के परिवार से बातचीत की और उनका हालचाल जाना।

-दिल्ली: मौजपुर, सीलमपुर और गोकुलपुरी की लेटेस्ट तस्वीरें। इन इलाकों में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।

-दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन की लेटेस्ट तस्वीरें... कल यहां प्रदर्शनकारी जमा थे।

- नागरिकता कानून पर सुलग रही दिल्ली में हिंसा को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस मुरलीधर के घर आधी रात को सुनवाई हुई। जज ने डीसीपी को यह निर्देश दिया कि घायलों को बड़े अस्पताल में शिफ्ट किया जाए और उन्हें सुरक्षा दी जाए।

- दिल्लीः मेट्रो के सभी स्टेशन से एंट्री और एग्जिट गेट खोले गए।

-उपद्रवियों को गोली मारने का आदेश

हिंसा को देखते हुए नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं। बता दें कि पिछले तीन दिनों से हो रही हिंसा ने अब तक 13 लोगों की मौत हो गई है जबकि 56 पुलिसकर्मी समेत 250 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं।

-दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बाहर दिल्ली हिंसा में एक्शन की मांग कर रहे लोगों को तितर-बितर किया।

-दिल्ली हिंसा के खिलाफ तमिलनाडु के मदुरै में प्रदर्शन।

- केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन

दिल्ली: जामिया मिलिया इस्लामिया के पूर्व छात्र संघ और जामिया को ऑर्डिनेशन कमेटी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरना दिया। ये लोग दिल्ली हिंसा के खिलाफ सख्त कार्रवाई और शांति बहाल करने की मांग कर रहे हैं।

- अजीत डोभाल ने स्थिति का जायजा लिया:
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल आज देर रात हालात का जायजा लेने के लिए सीलमपुर पहुंचे। डोभाल ने पुलिस के आला अधिकारियों से बातचीत की। सीलमपुर स्थित डिप्टी कमिश्नर ऑफ नॉर्थ-ईस्ट पुलिस के ऑफिस में करीब एक घंटे तक पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की।


अर्द्धसैनिक बलों की 35 कंपनियां तैनात:
तनाव को देखते हुए पुलिस के साथ अर्द्धसैनिक बल की 35 कंपनियां तैनात की गई हैं। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मंदीप सिंह रंधावा ने बताया कि अलग-अलग थानों में 11 एफआईआर दर्ज की गई हैं। 25 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इन पर हत्या, हत्या के प्रयास, पुलिस पर हमला और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की धाराएं लगाई गई हैं।  

इन इलाकों में जारी है तनाव:
उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, ब्रह्मपुरी, बाबरपुर, कर्दमपुरी, सुदामापुरी, घोंडा चौक, करावल नगर, मुस्तफाबाद, चांदबाग, नूरे इलाही, भजनपुरा और गोकलपुरी इलाके हिंसाग्रस्त हैं और बीते तीन दिनों से यहां तनाव जारी है। मंगलवार सुबह भी दोनों पक्ष के लोग सड़क पर आए और जमकर बवाल काटाय़ कर्दमपुरी और सुदामापुरी इलाके में दिनभर रुक-रुककर पथराव और फायरिंग होती रही। 

स्कूल बंद और परीक्षाएं स्थगित:
उत्तर पूर्वी जिले के स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे। दिल्ली सरकार ने गृह परीक्षाएं स्थगित करने की घोषणा की है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। सरकार ने सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित करने का आग्रह किया है।

अमित शाह ने दो बार बैठक की: राजधानी में हालात बिगड़ते देख केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दोपहर में भाजपा, कांग्रेस और आप नेताओं के साथ बैठक की। इसके बाद उन्होंने देर शाम सात बजे दोबारा आला अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा की।

मेट्रो स्टेशन बंद: हिंसा के चलते पिंक लाइन मेट्रो लाइन के पांच स्टेशन बंद रहे। इनमें शिव विहार, जौहरी एंक्लेव, गोकुलपुरी, मौजपुर और जाफराबाद मेट्रो स्टेशन शामिल रहे। पिंक लाइन पर मेट्रो को केवल मजलिस पार्क से वेलकम तक चलाया गया। बताया जा रहा है कि आज भी ये पांच स्टेशन बंद रहेंगे। 

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बड़ी संख्या में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रविवार को सड़क अवरुद्ध कर दी थी जिसके बाद जाफराबाद में सीएए के समर्थकों और विरोधियों के बीच झड़प शुरू हो गई थी। दिल्ली के कई अन्य इलाकों में भी ऐसे ही धरने शुरू हो गए। मौजपुर में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने एक सभा बुलाई थी जिसमें मांग की गई थी कि पुलिस तीन दिन के भीतर सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों को हटाए। इसके तुरंत बाद दो समूहों के सदस्यों ने एक-दूसरे पर पथराव किया, जिसके चलते पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।
कैसे शुरू हुई हिंसा:

  

संबंधित खबरें