No party will get majority Congress will forge alliance for UPA plus plus govt: Jyotiraditya Scindia - किसी दल को नहीं मिलेगा बहुमत, कांग्रेस 'UPA प्लस प्लस' सरकार के लिये करेगी गठबंधन: ज्योतिरादित्य DA Image
20 नबम्बर, 2019|2:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसी दल को नहीं मिलेगा बहुमत, कांग्रेस 'UPA प्लस प्लस' सरकार के लिये करेगी गठबंधन: ज्योतिरादित्य

jyotiraditya scindia  deputy cm  rajasthan

आम चुनावों में किसी एक दल को बहुमत नहीं मिलने का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुए कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि उनकी पार्टी केंद्र में “संप्रग प्लस प्लस” सरकार बनाने के लिये समान विचार वाले दलों के साथ एक मजबूत गठबंधन बनाएगी और पांच साल के “अन्याय” को खत्म करेगी। मध्यप्रदेश की गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से पांचवीं बार चुनाव जीतने की कोशिश में लगे कांग्रेस महासचिव ने पीटीआई-भाषा से एक साक्षात्कार में कहा कि गठबंधन सरकारों के दिन बने रहेंगे।

सात चरणों वाले लोकसभा चुनावों के पांच चरण होने के बाद कांग्रेस की संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर सिंधिया ने कहा कि वह कभी सीटों की संख्या में नहीं जाते लेकिन देख सकते हैं कि लोगों का मिजाज भाजपा की मौजूदा सरकार के खिलाफ है। उन्होंने कहा, “मेरा आकलन है कि कांग्रेस पार्टी, संप्रग केंद्र में सरकार बनाएगा और एक गठबंधन के तौर पर हमारे प्रदर्शन को लेकर मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं।”

क्षेत्र में अपने चुनाव प्रचार के दौरान सिंधिया ने पीटीआई-भाषा को बताया, “मुझे लगता है कि देश के लोग पिछले पांच सालों में नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा उनके साथ किये गए अन्याय का जवाब देने के लिये इंतजार कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि यह कहने की जरूरत नहीं है कि कोई भी दल चाहे भाजपा हो या कांग्रेस या फिर कोई और पूर्ण बहुमत नहीं पाने जा रहा है।

कांग्रेस महासचिव ने कहा, “केंद्र में गठबंधन सरकार होगी जैसी की अभी है या पिछले 25-30 सालों में देश में जैसी रही है।” उन्होंने कहा, “ऐसा कहने के बाद, मेरा दृढ़ विश्वास है कि संप्रग एक बेहद मजबूत गठबंधन सरकार देने में कामयाब होगा।” खुद को ज्योतिषी नहीं बताते हुए उन्होंने कहा कि उनका पूर्वानुमान है कि कांग्रेस और उसके सहयोगी एक साथ “बेहद मजबूत" प्रदर्शन” करेंगे।

उन्होंने कहा, “हम समान विचार वाले दलों के साथ मिलकर मजबूत गठबंधन सरकार बनाने की तरफ देख रहे हैं जो संप्रग या संप्रग प्लस प्लस होगी।” संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) का गठन 2004 के आम चुनावों के बाद किया गया था और इसका नेतृत्व कांग्रेस कर रही थी। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व और सोनिया गांधी की अध्यक्षता में इस गठबंधन ने 10 साल देश में शासन किया।

दिग्गज कांग्रेसी नेता रहे दिवंगत माधव राव सिंधिया के बेटे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद से जुड़े विषयों का राग अलाप रही है, लेकिन विकास के मुद्दे पर कहने के लिये उसके पास कुछ नहीं है। उन्होंने कहा, “यह बहुत आसानी से समझ में आता है। हम क्योंकि हमेशा आर्थिक वृद्धि, विकास और प्रगति के मुद्दे के साथ आते हैं। हम गरीबी उन्मूलन का मुद्दा लेकर आए हैं।”

उन्होंने कहा, “भाजपा के पास अपने पांच सालों के शासन के बारे में बोलने को कुछ नहीं है। पिछली बार जब वे सत्ता में थे तो उन्होंने इंडिया शाइनिंग के बारे में बात की थी। और भारत सिर्फ भाजपा के लिये चमक रहा था बाकी देश के लिये नहीं।” सिंधिया ने कहा कि इस बार वे 'अच्छे दिन' का नारा लेकर आए जो भाजपा के दरबारियों के एक सीमित-खंड पर ही लागू होता है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, “अगर आप भाजपा के आम कार्यकर्ता से पूछेंगे या उसके सांसदों से पूछेंगे तो उनके भी 'अच्छे दिन नहीं आए हैं। ” राहुल गांधी की कोर टीम के महत्वपूर्ण सदस्य सिंधिया ने कहा कि उनके लिये कांग्रेस अध्यक्ष प्रधानमंत्री पद के लिये स्वाभाविक पसंद हैं लेकिन अंतिम फैसला संप्रग के घटकों द्वारा लिया जाएगा। उन्होंने कहा, “हम भाजपा की तरह नहीं हैं जो एक व्यक्ति को मानती है, हमारे साथ आइये या रास्ता नापिये। हम साथ काम करने और सबको साथ लेकर चलने में विश्वास रखते हैं।” उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर नरेंद्र मोदी की टिप्पणी को अरुचिकर और दुखद बताया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No party will get majority Congress will forge alliance for UPA plus plus govt: Jyotiraditya Scindia