DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › जेएनयू हिंसा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई, मोदी सरकार ने संसद में बताया
देश

जेएनयू हिंसा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई, मोदी सरकार ने संसद में बताया

एएनआई,नई दिल्लीPublished By: Shankar Pandit
Tue, 03 Aug 2021 01:57 PM
जेएनयू हिंसा मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई, मोदी सरकार ने संसद में बताया

साल 2020 में हुई हिंसा के बाद जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में दिल्ली पुलिस ने कितने लोगों को गिरफ्तार किया है, इसकी जानकारी केंद्र सरकार ने दी है। मंगलवार को लोकसभा में बताया कि दिल्ली पुलिस ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में 2020 की हिंसा के सिलसिले में अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। हालांकि, सरकार ने यह जरूर कहा कि पुलिस द्वारा कई लोगों की जांच की गई थी।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि दिल्ली पुलिस ने सूचना दी है कि जेएनयू परिसर में जनवरी 2020 में हिंसा के संबंध में वसंत कुंज (उत्तर) पुलिस स्टेशन में दर्ज तीन मामलों की जांच के लिए क्राइम ब्रांच की विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन किया गया है।

लोकसभा में डीएमके सांसद दयानिधि मारनके एक लिखित प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि जेएनयू हिंसा मामले की जो जांच हुई है, उसमें गवाहों की परीक्षा, फुटेज का संग्रह और विश्लेषण और पहचाने गए संदिग्धों की जांच शामिल है। दिल्ली पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार, इन मामलों में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

गौरतलब है कि जनवरी 2020 में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय यानी जेएनयू परिसर में उस वक्त हिंसा भड़क गयी, जब लाठियों से लैस कुछ नकाबपोश लोगों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर हमला किया था, परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया जिसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा। जेएनयू हिंसा को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था। दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र तक में जेएनयू हिंसा के खिलाफ में लोग सड़क पर उतरे थे। साथ ही दिल्ली पुलिस के मुख्यालय पर देर रात छात्रों ने प्रदर्शन किया था।

संबंधित खबरें