DA Image
20 जनवरी, 2020|8:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Nirbhaya Rape and Murder case: राष्ट्रपति को भेजी गई दया याचिका की फाइल, केंद्र ने की खारिज करने की सिफारिश

president kovind impose president   s rule in maharashtra   ani photo

1 / 2Ram Nath Kovind

breaking news

2 / 2Breaking news

PreviousNext

गृह मंत्रालय ने निर्भया गैंगरेप केस के एक दोषी विनय शर्मा की दया याचिका की फाइल राष्ट्रपति को भेज दी है। साथ ही गृह मंत्रालय ने राष्ट्रपति से दया याचिका को खारिज करने की अनुशंसा (सिफारिश) भी की है। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही साल 2012 में दिल दहलाने वाले निर्भया कांड के एक दोषी की दया याचिका गृह मंत्रालय के पास पहुंची थी। जिसके बाद मंत्रालय ने इस दया याचिका को राष्ट्रपति के पास भेजा है।

बता दें कि दिल्ली सरकार पहले ही दोषी की दया याचिका को खारिज कर चुकी है। यह जानकारी समाचार एजेंसी एएनआई ने दी है। बता दें कि हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर को सामूहिक बलात्कार के बाद जिंदा जला दिए जाने की घटना से देशभर में रोष है। 

निर्भया से 16 दिसंबर 2012 को सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। बुरी तरह जख्मी युवती की बाद में मौत हो गयी थी। बलात्कार की इस बर्बर घटना के बाद देशभर में आक्रोश फैल गया था और हर जगह विरोध प्रदर्शन हुए थे। दिल्ली सरकार ने दया याचिका ऐसे वक्त खारिज की है, जब हैदराबाद में पशु चिकित्सक से दुष्कर्म और हत्या के मामले के कारण समूचे देश में रोष है। 

महिला सुरक्षा के लिए स्थापित निर्भया फंड को लेकर सरकार की उदासीनता सामने आई है। निर्भया फंड से कुछ राज्यों ने जहां नाममात्र की धनराशि खर्च की तो वहीं कई राज्य विभिन्न मदों में एक भी पाई का उपयोग करने में विफल रहे। हैदराबाद में महिला डॉक्टर से बलात्कार की घटना से देश में उत्पन्न आक्रोश के बीच एक तथ्य यह भी है कि केंद्र सरकार द्वारा महिला सुरक्षा के लिए गठित निर्भया फंड के पैसे खर्च करने में सभी राज्य विफल रहे और कुछ राज्यों ने तो एक पैसा भी खर्च नहीं किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nirbhaya Case mercy plea of 2012 gang rape convict Vinay Sharma to President Ram Nath Kovind recommends rejection of mercy plea