DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › मिजोरम विस्फोटक बरामदगी: NIA ने अपने हाथों में ली मामले की जांच
देश

मिजोरम विस्फोटक बरामदगी: NIA ने अपने हाथों में ली मामले की जांच

ANI,नई दिल्लीPublished By: Ashutosh Ray
Sat, 31 Jul 2021 06:57 PM
मिजोरम विस्फोटक बरामदगी: NIA ने अपने हाथों में ली मामले की जांच

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मिजोरम विस्फोटक बरामदगी मामले में अपनी जांच शुरू कर दी है। गृह मंत्रालय की ओर से मामले की जांच सौंपे जाने के बाद आतंकवाद निरोधी एजेंसी ने गुरुवार को जांच अपने हाथ में ले ली और मामला फिर से दर्ज कर लिया। यह मामला ऐसे समय में दर्ज किया गया है जब 26 जुलाई को असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर खून झड़प हुआ था।

इस विस्फोटक मामले में असम राइफल्स ने 22 जून को दो व्यक्तियों को पकड़ा था और म्यांमार में तस्करी कर लाए जा रहे हथियारों का जखीरा बरामद किया गया था। जिनमें छह कार्टून में 3000 खास किस्म के डेटोनेटर, 37 पैकेट में 925 इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, चार बॉक्स में 2000 मीटर लंबा फ्यूज और 63 बोरी बोरी में विस्फोटक पदार्थ शामिल था। विस्फोटक पाउडर का कुल वजन 1.3 टन था।

अधिकारियों को संदेह था कि म्यांमार सेना के खिलाफ चिन नेशनल आर्मी (सीएनए) द्वारा इस्तेमाल के लिए विस्फोटकों को मिजोरम से म्यांमार ले जाया गया था। इस ऑपरेशन को मिजोरम के फरकॉन रोड ट्रैक जंक्शन क्षेत्र में असम राइफल्स (पूर्व) के तहत सेक्टर 23 असम राइफल्स की सरछिप बटालियेन की ओर से अंजाम दिया गया था।

बरामद सामान और पकड़े गए लोगों को डूंगतालंग पुलिस स्टेशन को सौंप दिया गया था और वहीं पर प्राथमिकी की दर्ज की गई। बता दें कि मिजोरम में तस्करी का यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार विस्फोटक सामग्रियों की बरामदगी हो हुई है। इसके बीच की सबसे बड़ी वजह ये है कि मिजोरम और म्यांमार की सीमा लगी हुई है। 

संबंधित खबरें