ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशरामेश्वरम कैफे ब्लास्ट केस में NIA को मिली बड़ी सफलता, मास्टरमाइंड सहित 2 को बंगाल से दबोचा

रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट केस में NIA को मिली बड़ी सफलता, मास्टरमाइंड सहित 2 को बंगाल से दबोचा

Rameswaram Cafe blast: कैफे में आईईडी रखने वाले आरोपी मुसाविर हुसैन शाजिब और विस्फोट की योजना बनाने और उसे अंजाम देने के मास्टरमाइंड अब्दुल मथीन ताहा के रूप में दोनों की पहचान की गई है।

रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट केस में NIA को मिली बड़ी सफलता, मास्टरमाइंड सहित 2 को बंगाल से दबोचा
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरु।Fri, 12 Apr 2024 10:59 AM
ऐप पर पढ़ें

Rameswaram Cafe blast: रामेश्वरम कैफे विस्फोट मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को बड़ी सफलता हाथ लगी है।  एनआईए ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के पास से दो लोगों को गिरफ्तार किया है। कैफे में आईईडी रखने वाले आरोपी मुसाविर हुसैन शाजिब और विस्फोट की योजना बनाने और उसे अंजाम देने के मास्टरमाइंड अब्दुल मथीन ताहा के रूप में दोनों की पहचान की गई है।

एनआईए ने हाल ही में एक मार्च को बेंगलुरु के एक कैफे में हुए विस्फोट के मामले में मुख्य आरोपी के रूप में मुसाविर हुसैन शाजिब और सह-षड्यंत्रकारी के रूप में अब्दुल मतीन ताहा की पहचान की है। एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि फरार आरोपियों का पता लगाने और उन्हें गिरफ्तार करने के प्रयासों के तहत, एनआईए ने कर्नाटक, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश में 18 स्थानों पर तलाशी ली थी।

रामेश्वरम कैफे विस्फोट मामले में एनआईए ने आईईडी के जरिये धमाके को अंजाम देने के आरोपी व्यक्ति की पहचान मुसाविर हुसैन शाजिब और सह-षड्यंत्रकारी की पहचान अब्दुल मतीन ताहा के रूप में की थी। दोनों कर्नाटक के शिवमोगा जिले के रहने वाले हैं। घटना को अंजाम देने के बाद वे बंगाल चले गए थे।

इससे पहले. चिक्कमगलुरु के खालसा निवासी मुजम्मिल शरीफ को 26 मार्च को गिरफ्तार किया गया था, जिसने मुख्य आरोपी को रसद सहायता प्रदान की थी। शरीफ से पुलिस हिरासत में पूछताछ की गई थी। एजेंसी ने 29 मार्च को प्रत्येक फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने पर 10 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें