New twist in Maharashtra Sanjay Raut said-Need 100 births to understand what Sharad Pawar says - महाराष्ट्र में नया ट्विस्ट, संजय राउत बोले-पवार क्या कहते हैं समझने के लिए 100 बार लेना होगा जन्म DA Image
9 दिसंबर, 2019|8:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाराष्ट्र में नया ट्विस्ट, संजय राउत बोले-पवार क्या कहते हैं समझने के लिए 100 बार लेना होगा जन्म

sanjay raut

शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने मंगलवार को कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार क्या कहते हैं, इसे समझने के लिए 100 बार जन्म लेना पड़ेगा। शिवसेना सांसद सोमवार को उनके आवास पर हुई मीडिया ब्रीफिंग के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। इस दौरान एक पत्रकार ने उनसे शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा द्वारा महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर पवार के लगभग 'यू-टर्न' लेने पर सवाल पूछा, जिसके जवाब में उन्होंने यह प्रतिक्रिया दी।

राउत ने कहा, “आपको पवार और हमारे गठबंधन को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है। बहुत जल्द, दिसंबर की शुरुआत में, एक शिवसेना नीत गठबंधन सरकार महाराष्ट्र में सत्ता में होगी। यह एक स्थिर सरकार होगी।” उन्होंने कहा कि सरकार गठन को लेकर सेना को कोई संदेह नहीं है, लेकिन मीडिया इस पर संदेह पैदा कर रहा है।

राउत ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र के किसानों के मुद्दों पर राकांपा प्रमुख के साथ चर्चा की थी। राउत ने कहा, “क्या गलत है अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवार की तारीफ कर दी? इससे पहले मोदी ने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया था कि पवार उनके राजनीतिक गुरु हैं। इसलिए इसमें कोई राजनीति न देखें।”

उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, “वह सेना थी, जिसने महाराष्ट्र में भाजपा को खड़ा किया, उसे सीट दी और हमेशा अपने साथ रखा और अब भाजपा ने संसद में शिवसेना के सांसदों के सीटिंग अरेंजमेंट को बदल दिया है और उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।”


महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर मंथन जारी : कांग्रेस

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर बैठकों का दौर जारी है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जारी गतिरोध के बीच मंगलवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं अहमद पटेल, ए.के. एंटनी और मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ बैठक की। बैठक के बाद नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए न्यूनतम साझा कार्यक्रम को लेकर आगे और बैठकें करेंगी और इस पर मंथर जारी है।  गौरतलब है कि इससे एक दिन पहले सोमवार को सोनिया गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार की बहुप्रतीक्षित मुलाकात हुई थी, लेकिन इसमें सरकार बनाने को लेकर कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया था। 

दोनों नेताओं की मुलाकात के तुरंत बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्विटर पर कहा था, “महाराष्ट्र की स्थिति को लेकर शरद पवार आज (सोमवार) कांग्रेस अध्यक्ष से मिले और उन्हें महाराष्ट्र की स्थिति की जानकारी दी। यह तय हुआ कि एक-दो दिन बाद कांग्रेस और राकांपा के प्रतिनिधि आगे की स्थिति को लेकर चचार् के लिए दिल्ली में मिलेंगे।” 21 अक्टूबर का विधानसभा चुनाव भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)-शिवसेना ने एक गठबंधन के तहत लड़ा था। 288 सीटों में से भाजपा 105 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी, जबकि शिवसेना 56 सीटें जीत पाई थी। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पांच साल में आधी-आधी अवधि के लिए मुख्यमंत्री का पद मांगा, जिसे भाजपा ने ठुकरा दिया और गठबंधन टूट गया।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:New twist in Maharashtra Sanjay Raut said-Need 100 births to understand what Sharad Pawar says